ख़बरदेश

बड़बोली साध्वी के सपोर्ट में बोले शाह- हिंदू आतंक के नाम पर बनाया गया फर्जी केस

कोलकाता में प्रेस कॉन्फ्रेंस के दौरान भोपाल से बीजेपी प्रत्याशी प्रज्ञा ठाकुर का बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह ने खुलकर समर्थन किया. अमित शाह ने कहा कि जहां तक साध्वी प्रज्ञा का सवाल है तो कहना चाहूंगा कि हिंदू टेरर के नाम से एक फर्जी केस बनाना गया था, दुनिया में देश की संस्कृति को बदनाम किया गया, कोर्ट में केस चला तो इसे फर्जी पाया गया.

बीजेपी अध्यक्ष ने सवाल किया कि स्वामी असीमानंद के साथ भी ऐसा ही किया गया. अदालत के आदेश के बाद उन्हें छोड़ दिया गया. अगर ये लोग कसूरवार हैं तो अदालत इन्हें क्यों छोड़ रही है, अगर छोड़ रही है तो समझौता एक्सप्रेस में ब्लास्ट करने वाले लोग कहां है?

वहीं पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी पर निशाना साधते हुए शाह ने कहा, ‘नारदा, शारदा और सिंडिकेट राज ने बंगाल के अंदर भष्टाचार का माहौल खड़ा किया है. जिससे बंगाल की जनता त्रस्त है. चिटफंड घोटाले के सभी प्रमाण स्थानीय प्रशासन ने नष्ट कर दिये. ये लोग नहीं चाहते दोषियों को सजा मिले. बीजेपी सरकार बनने के बाद चिटफंड घोटाले के जो भी दोषी हैं, उन सबको सजा दी जाएगी.’

अमित शाह ने आगे कहा, ‘बंगाल में वोटबैंक की तुष्टिकरण की राजनीति ने यहां की संस्कृति को नष्ट करने का काम किया है. पुलिस और ब्यूरोक्रेसी ने अपना रोल छोड़कर राजनेताओं का रोल ले लिया है. राजनेता मौन है, बाबू शाही बंगाल के लोकतंत्र को हड़प कर गई. सभी लोकतांत्रिक हितों को बंगाल में दफन करने वाली ममता दीदी आज लोकतंत्र की बात कर रही हैं. बंगाल में दो चरण के चुनाव के बाद ममता बनर्जी की बौखलाहट स्पष्ट दिख रही है. उन्हें अपनी हार दिख रही है और उसी हताशा से वो अब विपक्ष और चुनाव आयोग पर सवाल उठा रही हैं. हमारी रैली को बंगाल में अनुमति न देने वाली ममता दीदी की रैलियों को आज जनता अनुमति नहीं दे रही. उनकी रैलियों में भीड़ नहीं उमड़ रही है.’

 

 

Back to top button