जरा हट के

जिस-जिस ने एक बार पढ़ ली ये खबर, उन सभी ने जीवन में कभी दोबारा कॉफी नहीं पी

वैसे तो हमारे देश में चाय का चलन बहुत ज्यादा है लेकिन धीरे-धीरे लोगों का खिचाव कॉफ़ी की ओर बढ़ने लगा है. कॉफ़ी पीने में कोई बुराई नहीं है पर इसे एक हद तक पीना ही ठीक है वरना यह एक लत भी बन सकती है जो कि हमारे शरीर के लिए हानिकारक हो सकता है. आज हम आपको कॉफ़ी के बारे में एक ऐसी बात बताने जा रहे हैं जिसे सुनकर आप कॉफ़ी पीना छोड़ सकते हैं और ये खबर ख़ास तौर पर उन लोगों के लिए है जो कॉफ़ी के दिवाने हैं.


हम आपको बताना चाहेंगे कि दुनिया की सबसे महंगी कॉफ़ी ‘कोपी लुवाक’ जो पीने में तो बेहद टेस्टी लगती हैं लेकिन जब आप इसको बनाने की प्रक्रिया जानेंगे तो आप भी हैरान हो जाएँगे.


हम आपको बता दें कि इस कॉफ़ी का निर्माण एक जंगली रेड कॉफ़ी बीन्स से होता है जो एशियन पाम सिवेट नाम के जानवर की पॉटी से निकलता है. बेर खाने वाला यह जानवर दरअसल, बेर खाने के बाद उन्हें पचा नहीं पाता तो इसलिए वो मल के जरिये बेरी के बीजों को अपने पेट से बाहर निकालता है जो बीन्स के रूप में वातावरण में आता है.

फिर इसी बीन्स को सुखाकर ‘कोपी लुवाक’ नाम कि यह कॉफी बनाई जाती है और यह कॉफ़ी बहुत कम पाई जाती है इसलिए इसकी कीमत बहुत ज्यादा है.

हम आपको बता दें कि इस कॉफ़ी की कीमत €550 / US$700 प्रति किलोग्राम होती है. पर इस कॉफ़ी का स्वाद चखने के लिए लोग दुनिया भर से इंडोनेशिया आते हैं. अगर एक बार कोई भी इस कॉफ़ी का सेवन कर ले तो उसे इसकी लत लग जाती है. तो बताइए क्या आप किसी के मल से बनी कॉफ़ी पीना पसंद करेंगे?

Back to top button