देश

कांग्रेस उम्मीदवार ने किया महिलाओं का अपमान, VIDEO ने मचाया घमासान

Kerala Congress Leader K Sudhakarans Sexist Campaign Video, women commission files case against him

लोक सभा चुनाव का आगाज़ हो चुका है| एक दौर का मतदान भी हो गया है| इस चुनाव में सियासी घमासान के बीच नेताओं की तरफ से आपत्तिजनक बयानबाजी भी तेज हो गई है. चुनाव के मद्देनजर पार्टियों का चुनावी अभियान जारी है| अपनी जीत सुनिश्चित करने के लिए सभी दिग्गज उम्मीदवार अपने संसदीय क्षेत्रों का दिन-रात दौरा कर रहे हैं और अच्छा  माहौल बनाने की कोशिश में जुटे हैं|

इसी बीच कांग्रेस पार्टी के उम्मीदवार का एक विवादित विडियो सोशल मीडिया पर तेज़ी से वायरल हो जहा है| ये विडियो  केरल के कन्नूर का है | जहाँ कांग्रेस प्रत्याशी के. सुधाकरन ने लोकसभा चुनाव 2019 के प्रचार के लिए अपने फेसबुक पेज पर एक विवादित वीडियो शेयर किया है। इस विडियो के जरिये उन्होंने महिलाओं का अपमान किया है| कांग्रेस उम्मीदवार ने इस वीडियो के माध्यम से माकपा की पीके श्रीमति पर निशाना साधने को कोशिश की है। बताते चले इस लिंगभेदी वीडियो के जरिये वह पीके श्रीमति के साथ ही सभी महिलाओं का अपमान कर गए। अब केरल महिला आयोग के निर्देश पर अपने फेसबुक पेज पर ‘महिला विरोधी’ एक वीडियो साझा करने वाले के सुधाकरन के खिलाफ एक मामला दर्ज किया गया है।

जानिए क्या है पूरा मामला 

बता दे इस वायरल विडियो में साफ तौर पर बताया है कि एक व्यक्ति अपने दोस्त को बता रहा है कि उसका बेटा प्रॉपर्टी  में अपना हिस्सा मांग रहा है। इसी दौरान उसकी बेटी दो कप चाय लाती है। इस पर उसका बेटा अपनी बहन को कहता है कि वह एक भी काम ढंग से नहीं कर पाती। इसके बाद वह आदमी अपने दोस्त से कहता है कि उसकी बेटी अपनी बात भी सही तरीके से नहीं रख पाती है। वह कहता है कि ‘बेटियों को पढ़ाना बेकार है। उसका दोस्त सहमति जताते हुए कहता है कि बेटे ही बड़ी भूमिकाओं के लिए ठीक रहते हैं।

बताते चले  इस वीडियो में सबसे हैरान कर देने वाली ये है कि बेटी विरोध नहीं करती बल्कि सिर्फ मुस्करा देती है। सुधाकरन ने इस वीडियो के साथ एक डिस्क्लेमर भी लिखा है। जिसमें कहा गया है कि यह किसी मृत या जीवित व्यक्ति या जिन्होंने संसद में भाषण दिए हैं उनकी ओर इशारा नहीं करता है। उनके इस प्रचार वीडियो में महिला नेताओं को नीचा दिखाने की कोशिश की गई है। साथ ही जोर दिया गया है कि केरल को पुरुष प्रत्याशी के ही पक्ष में मतदान करना चाहिए। यह पहली बार नहीं है जब उन्होंने महिलाओं का अपमान किया हो। केरल के मुख्यमंत्री पी. विजयन पर हमला करते हुए सुधाकरन ने उन्हें ‘महिलाओं से बदतर’ कह डाला था।

देखे ये विडियो

https://www.facebook.com/ksudhakaraninc/videos/638145909966250/

वीडियो की देश भर में आलोचना हो रही है

वहीं कई महिला सामाजिक कार्यकर्ताओं ने इस पर विरोध दर्ज कराया है। समाजिक कार्यकर्ता कविता कृष्णन ने इस वीडियो को लेकर राहुल गांधी और शशि थरूर पर निशाना साधा है। उन्होंने लिखा कि, कांग्रेस का मानना है कि महिलाओं को सबरीमाला में प्रवेश नहीं करना चाहिए, न ही स्कूल, राजनीति, संसद में? कन्नूर जिले में कांग्रेस और सीपीएम नेताओं के बीच मुकाबला है। ‘श्रीमती टीचर’ के रूप में जानी जाने वाली सीपीएम प्रत्याशी पी के श्रीमती ने पिछली बार सुधाकरण को करीब 6,500 मतों से शिकस्त देकर यह सीट जीती थी।

 

Back to top button