ख़बरदेश

CCD के गुमशुदा मालिक पर 7000 करोड़ का कर्जा, सामने आई ये आखिरी चिट्ठी

पूर्व विदेश मंत्री और बीजेपी नेता एसएम कृष्णा के दामाद और कैफे कॉफी डे के मालिक वीजी सिद्धार्थ लापता हो गए हैं. बताया जा रहा है कि 29 जुलाई को वीजी सिद्धार्थ बेंगलुरु से यह कहते हुए निकले थे कि वह सकलेशपुर जा रहे है, लेकिन रास्ते में अपने ड्राइवर से मंगलुरु जाने के लिए कहा. सिद्धार्थ मंगलुरु आ रहे थे. शाम 6.30 बजे बीच रास्ते में नेत्रावती नदी के पुल पर पहुंचकर सिद्धार्थ कार से नीचे उतरे और अपने ड्राइवर को जाने के लिए कहा. यही उनकी आखिरी खबर है.

बताया जा रहा है, कैफे कॉफी डे पर करीब सात हजार करोड़ का लोन है. पुलिस को शक है, लोन के कारण सिद्धार्थ ने सुसाइड कर लिया. उनके ड्राइवर के बयान के आधार पर यह आशंका जताई जा रही है कि, उन्होंने उल्लल पुल से छलांग लगा दी है. फिलहाल नदी में और आसपास उनकी तलाश जोर-शोर से हो रही है.

सूत्रों के अनुसार, लापता होने से पहले सिद्धार्थ ने अपने सीएफओ से 56 सेकेंड के लिए बात की थी. उन्होंने CFO को कंपनी का ख्याल रखने के लिए कहा था. जिस वक्त वह अपने CFO से फोन पर बात कर रहे थे, तो काफी निराश थे. CFO से बात करने के बाद उन्होंने अपना फोन स्विच ऑफ कर दिया था.

इसी बीच उनकी एक चिट्ठी भी सामने आई है. इस चिट्ठी में सिद्धार्थ ने लिखा है, मैंने बहुत संघर्ष किया लेकिन एक इक्विटी पार्टनर के दबाव को और बर्दाश्त नहीं कर सकता. वह मुझ पर लगातार शेयर बायबैक करने के लिए दबाव बना रहे हैं, जो ट्रांजेक्शन मैंने आंशिक रूप से 6 महीने पहले एक दोस्त के साथ पूंजी इकट्ठा करने के लिए किया था. सिद्धार्थ ने अपने निवेशकों से माफी मांगते हुए सरेंडर करने की बात लिखी है.

 

Back to top button