खेल

Video: दोनों हाथ से गेंदबाजी करता है ये स्पिनर, इंटरनेशनल डेब्यु को तैयार

यह स्पिनर दोनों हाथों से करता है बॉलिंग, श्रीलंका की टी20 टीम में मिला स्‍थान, देखें VIDEO

कोलंबो: हर खिलाड़ी में कुछ न कुछ अलग एक्सपीरियंस होती है खास कर गेंदबाजो में कुछ गेंदबाज सीधे हाथ से बॉलिंग करते है कुछ उलटे हाथ से मगर इस खिलाड़ी में कुछ नया है बताते चले  श्रीलंका के कामिंडू मेंडिस की प्रतिभा को बेहद खास माना जा सकता है. क्रिकेट में उनके जैसे खिलाड़ी बेहद बिरले होते हैं. 20 साल के कामिंडू न सिर्फ दोनों हाथों से स्पिन गेंदबाजी करते हैं बल्कि अपनी फिरकी से बल्‍लेबाजों को छकाने में भी सफल रहते थे. इसी खासियत के कारण कामिंडू को इंग्‍लैंड के खिलाफ होने वाले एकमात्र टी20 मैच के लिए श्रीलंका की टीम में स्‍थान दिया गया है. 30 सितंबर 1998 को गॉल में जन्‍मे कामिंडू ने अब तक 6 लिस्‍ट ए मैच और इतने ही टी20 मैच खेले हैं.  ऑलराउंडर की हैसियत से खेलने वाले इस खिलाड़ी ने लिस्‍ट ए के मैचों में तीन और टी20 मैचों में दो विकेट हासिल किए हैं.वे वर्ष 2016 में अंडर-19 वर्ल्‍डकप में भी श्रीलंका की ओर से खेल चुके हैं.

लंका क्रिकेट बोर्ड (एसएलसी) टीम की कमान थिसारा परेरा को सौंपी गई है. टीम में काफी बदलाव हुए हैं और तेज गेंदबाज लसिथ मलिंगा की लंबे समय बाद वापसी हुई है. दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ खेले गए आखिरी टी-20 मैच की तुलना में इस टीम में काफी बदलाव देखने को मिले हैं. उस टीम की कप्तानी करने वाले एंजेलो मैथ्यूज को टीम से बाहर जाना पड़ा, वहीं सलामी बल्लेबाज उपुल थरंगा को भी टीम में जगह नहीं मिली है. इनके अलावा लाहिरू कुमारा, बिनूरू फर्नाडो और शेहान जयासूर्या की भी टीम में नहीं चुना गया है. जयसूर्या को हालांकि चार स्टैंड बाई खिलाड़ियों की सूची में शामिल किया गया है. इन चारों के स्थान पर विकेटकीपर-बल्लेबाज निरोशन डिकवेला, स्पिनर कामिंडू मेंडिस तेज गेंदबाज दुशमंथा चामिरा, नुवान प्रदीप को 15 सदस्यीय टीम में जगह मिली है.

मलिंगा ने सितंबर-2017 से टी-20 क्रिकेट नहीं खेली है. वह खेल के सबसे छोटे प्रारूप में सबसे ज्यादा विकेट लेने के मामले में शाहिद अफरीदी से सिर्फ 8 विकेट दूर हैं. उनके पास अपने विकेटों की संख्या को बढ़ाने का मौका है. एक इकलौता टी-20 मैच 27 अक्टूबर को खेला जाएगा.

टीम : थिसारा परेरा (कप्तान), दिनेश चंडीमल, निरोशन डिकवेला, कुशल जनिथा परेरा, कुशल मेंडिस, धनंयज डी सिल्वा, दासुन शनका, कामिंडु मेंडिस, इसुरू उदाना, लसिथ मलिंगा, दुशमंथा चामिरा, अकिला धनंजय, कासुन रजिथा, नुवान प्रदीप, लक्षण संदकाना.

Back to top button