बड़ों की बातें

सेक्स के लिए ये टाइम होता है सबसे परफेक्ट, पार्टनर भी खुलकर करती है एन्जॉय

Image result for इस वक्त महिलाएं सबसे ज्यादा रहती है सेक्स से लिए बेताब !

शारीरिक सम्बन्ध तो मनुष्य की प्रेम-अभिव्यक्ति है, जिसे उपर्युक्त समय और परिवेश में करते रहना चाहिए | प्रेम संबंधों के स्थायित्व की प्रतिभूति है सेक्स; यह सभी इन्द्रियों का एक सम्पूर्ण व्यायाम है | सेक्स में संतुष्टि एक बहुत ही आवश्यक पहलु है इसके लिए दीर्घ मिलन तो आवश्यक है ही साथ ही दो अवस्थाएं भी आवश्यक हैं,

तो आइये जाने कौन सा समय होता है जब बनाये गए शारीरिक सम्बन्ध सबसे प्रभावी होते हैं | शारीरिक सम्बन्ध बनाने से प्यार गहरा होता जाता है. इसी से आपके रिश्ते मजबूत होते हैं और आप दोनों में प्यार बना रहता है. सेक्स सम्बन्ध हर किसी के लिए ख़ास होते है. ये सिर्फ शारीरिक क्रिया नहीं है ये दो आत्माओ का मेल है, जो सुकून के साथ ही आत्मीय सुख भी देती है.

कई बार पुरुष ये सोचकर कन्फ्यूज हो जाते हैं कि महिलाओं की सेक्सुअल फीलिंग्स कब, कैसे और क्या होती हैं? और इसी कन्फ्यूजन के चलते दंपत्तियों की सेक्स लाइफ खराब होने लगती है। जैसे पुरुष को सबसे ज्यादा सेक्स अपने दुख के समय चाहिए होता है, उसी तरह महिलाओं का भी समय होता है जब उनकी सेक्स की इच्छा पीक पर होती है।

1. जब महिलाओं को मासिक धर्म होता है तो उसके तकरीबन 2 हफ्ते के बाद महिलाओं में प्रजनन क्षमता बढ़ जाती है और उनका सेक्स करने का बहुत मन करता है। यह समय मां बनने के लिए सबसे अच्छा समय माना जाता है।

2. मौसम से भी महिलाओं की सेक्स लाईफ पर फर्क पड़ता है, जैसे वसंत, पतझड़, बरसात और सर्दी में उनकी सेक्स करने की भावना बढ़ जाती है।

3. महिलाओं की शराब पीने के बाद सेक्स के प्रति उत्तेजना बढ़ जाती है और वो संबंध बनाने के लिए राजी हो जाती हैं। अल्कोहल लेने के बाद महिलाएं सेक्स को और अच्छे से इंज्वाय करती हैं।

4. महिलाएं पुरुषों के मुकाबले ज्यादा पॉर्न फिल्में देखती हैं और ये फिल्में देखने के बाद महिलाओं में सेक्स करने की इच्छा यकायक जागृत हो जाती है। अंतरंग पलों को स्क्रीन में देखने के बाद उनकी यौन उत्तेजना बढ़ जाती है।

Back to top button