खेल

कोहली ने खुद कबूला- मुझे खिलाड़ी से स्टार बनाने में धोनी का हाथ

Image result for धोनी के इस एहसान ने कोहली बने स्टार

इंडियन क्रिकेट टीम को 2 बार विश्व चैंपियन बनाने वाले टीम के दिग्गज कप्तान महेंद्र सिंह धोनी अपने करियर का आखिरी विश्व कप खेलने इंग्लैंड जा रहे हैं. आईपीएल से भी महत्वपूर्ण धोनी  के लिए विश्व कप होगा.  माही का विकेट के पीछे रहना और मैच के दौरान विराट को सुझाव देना भारतीय टीम के लिए कामयाबी का एक सूत्र रहा है.  खुद कप्तान कोहली भी इस बात से इनकार नहीं करते हैं. इस बीच भारतीय टीम के कैप्टेन विराट कोहली अभी भी वो समय याद है जब टीम के पूर्व कैप्टेन महेंद्र सिंह धोनी ने उनका समर्थन किया था.

बताते चले विराट ने इस बात को माना की धोनी के बदौलत उन्हें टीम में तीसरे नंबर पर खेलने का मौका मिला.  ये उस समय की बड़ी बात है. विराट ने ये बात एक मीडिया के वार्ता के दौरन कही. उन्होंने कहा, ‘जब मैं टीम में आया था उनके पास कुछ मैचों के बाद दूसरे खिलाड़ियों को आजमाने का विकल्प था. हालांकि मैंने अपने मौके को भुनाया, लेकिन मेरे लिए इस तरह का समर्थन मिलना काफी जरूरी था.

मीडिया से बातचीत के दौरान विराट ने कहा,  धोनी ने मुझे तीसरे नंबर पर खेलने  का भी मौका दिया, जबकि ज्यादातर खिलाड़ियों को नो 3 पोजीशन पर  पर बल्लेबाजी का मौका नहीं मिलता है.’ नो 3 पर खेलना का मौकाउन खिलाड़ियों को मिलता है जिनमे  एक तेज दिमाग एक शानदार प्रदर्शन करने वाले से मिलता है तो दोनों एक-दूसरे का काफी सम्मान करते है और धोनी-कोहली का रिश्ता भी इससे अलग नहीं है.

कोहली ने धोनी की तारीफ करते हुए कहा कि…

‘मैच की स्थिति को धोनी से बेहतर कोई नहीं पढ़ सकता. वह ऐसे खिलाड़ी हैं जो खेल को अच्छे से समझते हैं. वह पहली गेंद से आखिरी गेंद तक मैदान पर मैच को समझते हैं. मैं यह नहीं कहूंगा कि उनका होना मेरे लिए फायदे की बात है. लेकिन, मैं भाग्यशाली हूं कि उनके जैसा खिलाड़ी विकेट के पीछे खड़ा रहता है. मैच की रणनीति के लिए मैं धोनी और रोहित शर्मा के साथ चर्चा करता रहता हूं। डेथ ओवरों में मुझे पता है कि टीम के लिए मुझे बाउंड्री पर फील्डिंग करनी होगी. 30-35 ओवर के बाद धोनी को पता होता है कि मैं बाउंड्री पर फील्डिंग करुंगा तो वो खुद ही टीम की कमान संभाल लेते हैं.’

Back to top button