क्राइम

देवर-भाभी के प्यार में रोड़ा बना शौहर, दोनों ने दे दी ‘शराब’ की दावत

कानपुर । सजेती थानाक्षेत्र में प्रेम प्रसंग के चलते दस पूर्व शादी कर घर आई विवाहिता ने देवर के साथ पति की गला काटकर हत्या कर दी। पुलिस ने हत्या की घटना का खुलासा करते हुए मृतक की पत्नी व सगे छोटे भाई को गिरफ्तार कर लिया। पुलिस ने हत्या में प्रयुक्त हसिया व मोटर साइकिल को बरामद करते हुए हत्यारोपितों को जेल भेज दिया।
सजेती के बीबीपुर गांव में रहने वाले जय सिंह यादव किसान है। परिवार में पत्नी राजकुमारी व तीन बेटे हैं। बड़ा बेटा बब्लू कानपुर में रहता है, जबकि मंझिला बेटा शैलेन्द्र यादव (20) ट्रक चालक था और सबसे छोटा बेटा शारदा कंडक्टर है। दस दिन पूर्व मंझिले बेटे शैलेन्द्र मामा राम कृष्ण की बेटी रोशनी (ममेरी बहन) से शादी कर ली। सोमवार को शैलेन्द्र का शव घर से आधा किलोमीटर दूर महुआपुर रोड किनारे खेत में गला कटा लाश मिलने से सनसनी फैल गई।
धारदार हथियार से काटकर युवक की हत्या की सूचना पर पहुंचे पुलिस अधीक्षक ग्रामीण प्रद्युमन सिंह, थानाध्यक्ष अमरेन्द्र बहादुर सिंह ने फारेंसिक टीम के साथ जांच की। साक्ष्यों को जुटाते हुए पुलिस को पता चला कि नवविवाहिता का मृतक की पत्नी रोशनी के देवर शारदा से प्रेम प्रसंग चल रहा था। लेकिन बड़े भाई ने जबरन उससे शादी कर ली थी।
पुलिस अधीक्षक ग्रामीण प्रद्युमन सिंह ने बुधवार को हत्याकांड का खुलासा किया। उन्होंने बताया कि मृतक की पत्नी के देवर से प्रेम प्रसंग की जानकारी पर उनकी तलाश में पुलिस की टीम लगी। जिसके आधार पर दोनों को हिरासत में लेकर पूछताछ शुरु की गई। पूछताछ में दोनों ने हत्या की घटना कबूल कर ली।
उन्होंने बताया कि हत्या से पूर्व शैलेन्द्र को पहले शराब पिलाई। नशे में होने पर उसे हसिया मारकर हत्या कर दी। इस दौरान पत्नी ने उसके पैर पकड़े और सगे भाई शारदा ने हसिया से हमला कर मौत के घाट उतार दिया। हत्या के बाद दोनों रात के अंधेरे में शव को जमुना नदी में फेंकने जा रहे थे, तभी हरदौली के पास शव खेत में गिर गया। जिसके बाद घबरा कर दोनों पकड़े जाने के डर से भाग निकले। मोटर साइकिल में खून लगा होने के चलते उसे भी उन्होंने खेतों में छिपा दिया था। हत्याकांड में प्रयुक्त मोटर साइकिल, हसिया व अन्य सबूत बरामद करते हुए दोनों को जेल भेज दिया।
Back to top button