क्राइम

महिला दारोगा को बाल पकड़कर घसीटा, नोचा चेहरा और फाड़ दी वर्दी

प्रतीकात्मक तस्वीर

शनिवार को गुजरात में एक महिला पुलिस सब इंस्पेक्टर को पीटने और धमकाने के आरोप में चार लोगों को गिरफ्तार किया गया. गिरफ्तार आरोपियों में दो महिलाएं भी शामिल हैं. हमले की शिकार महिला इंस्पेक्टर सैयाजीगंज पुलिस स्टेशन में तैनात हैं और शनिवार को वारदात के वक्त ड्यूटी पर थीं.

जानकारी के मुताबिक, अलकापुरी चौकी पर एक कांस्टेबल के साथ मौजूद सब इंस्पेक्टर एमएच प्रजापति उन लंबित शिकायतों को निपटा रही थीं, जो सैयाजीगंज पुलिस स्टेशन में दर्ज कराई गई थीं. इस दौरान सतीश अन्य तीन आरोपियों अशफाक, लक्षमीबेन और आशा सैयद के साथ पहुंचा. सतीश ने प्रजापति से कहा कि उसे परेशान न किया जाए, क्योंकि उसने शिकायतकर्ता के साथ मामला सुलझा लिया है.

इस पर महिला दरोगा ने कहा कि यह एक रूटीन प्रक्रिया है, इसमें उस शख्स को बुलाकर पक्ष जानने की कोशिश की जाती है, जिसके खिलाफ शिकायत की गई है. इसके बाद ही जरूरत पड़ने पर एफआईआर दर्ज की जाती है. यह सुनते ही सतीश प्रजापति पर चिल्लाने लगा और उनपर बेवजह इस मामले में उसे घसीटने का आरोप लगाने लगा.

इस दौरान जब प्रजापति ने उसे आवाज नीची करने को कहा तो लक्ष्मी और आशा ने कथित तौर पर प्रजापति की पिटाई की. आरोप यह भी है कि दोनों ने महिला सब इंस्पेक्टर को बालों से पकड़कर घसीटा, उनका चेहरा खरोंचा और मुक्के मारे. वहीं, सतीश और अशफाक ने महिला दारोगा को गाली दी और जान से मारने की धमकी भी दी. प्रजापति ने अपनी शिकायत में ये आरोप लगाए हैं.

आरोप यह भी है कि आरोपियों ने महिला सब इंस्पेक्टर की वर्दी को नुकसान पहुंचाया है. इस बीच कांस्टेबल ने दखल देने की कोशिश की, लेकिन सतीश और अशफाक ने उसे जमकर धमकाया. जिसके बाद कांस्टेबल ने पुलिस स्टेशन पर फोन कर फोर्स बुला ली और आरोपियों को पकड़ लिया गया.

Back to top button