क्राइम

पति करता था नाइट ड्यूटी, पत्नी पूरे करती थी प्रेमी संग अपने अरमान, लेकिन एक दिन अचानक…

Related image

 

इंदौर । सांवेर रोड पर स्थित फैक्टरी में नाइट ड्यूटी करने वाला व्यक्ति शंका के चलते गुरुवार की अलसुबह घर पहुंचा तो उसकी पत्नी प्रेमी के साथ सोती मिल गई। इससे गुस्साए उसके पति ने सो रहे प्रेमी के सीने में चाकू घोंपकर उसकी हत्या कर दी। उसने पत्नी पर भी हमला किया, लेकिन चीख-पुकार के बीच लोग वहां आए तो पति घर से बाहर दौड़ पड़ा। हालांकि उसे पुलिस ने पीछा कर पकड़ लिया। घटना बाणगंगा थाना क्षेत्र की है।

गुरुवार को अलसुबह करीब 4 बजे राकेश (30) पुत्र भागीरथ निवासी गोविंद कॉलोनी को अपनी पत्नी गीता के साथ आपत्तिजनक हालत में देख शेखर बघेल ने हत्या कर दी। उसने पत्नी गीता (25) को भी घायल कर दिया। पड़ोसियों की सूचना पर पहुंची एफआरबी के सिपाही रामकेश ने आरोपित शेखर को पीछा कर पकड़ लिया। घायल पत्नी की रिपोर्ट पर उसके खिलाफ केस दर्ज कर गिरफ्तारी ले ली है। घायल गीता को पहले जिला अस्पताल ले जाया गया, जहां से उसे एमवाय अस्पताल रेफर कर दिया गया, जहां डॉक्टरों ने उसे भर्ती कर इलाज शुरू कर दिया है। बताते हैं कि राकेश अविवाहित था।

रात को ही हुआ था झगड़ा

बाणगंगा टीआई इंद्रमणि त्रिपाठी के अनुसार शेखर बघेल मूलत: खरगोन का रहने वाला था। उसने 2016 में सागर निवासी गीता को पत्नी के रूप में अपने पास रख लिया था। गीता सागर में अपने दो बच्चों को पहले पति के पास छोड़कर आई थी। शेखर सांवेर रोड की किसी फैक्टरी में रात आठ से सुबह आठ बजे तक की ड्यूटी करता था। बुधवार की रात करीब 12 बजे बाद वह घर पहुंचा तो पत्नी किसी से मोबाइल पर बात करती मिल गई। पूछने पर शेखर को अपनी बुआ से बात करना बताया।

शंका के चलते शेखर ने उसे फटकारते हुए थप्पड़ जड़ दिया और रात में किसी से भी बात करने का मना कर दिया। थप्पड़ से आहत गीता ने फोन कर अपने प्रेमी राकेश पुत्र भागीरथ को बुलवा लिया। गीता के कहे पर उसके घर पहुंचे राकेश ने गीता को अपनी मुंहबोली बहन बताते हुए उस पर हाथ उठाने को लेकर आपत्ति जताते हुए शेखर को थप्पड़ मार दिया।

रात को मामला जैसे-तैसे शांत हुआ तो शेखर नौकरी करने चला गया लेकिन उसका मन नहीं माना तो शंका के चलते सुबह करीब 4 बजे वह वापस घर पहुंचा। घर पर उसने राकेश को पत्नी गीता के साथ आपत्तिजनक हालत में सोता देखा तो आपा खो बैठा और सीने में चाकू मारकर उसकी हत्या कर दी। पत्नी चीख-पुकार करने लगी तो उसके सिर पर पत्थर मार दिया। हाथापाई में उसके हाथ पर चाकू भी लग गया। हंगामे और शोरगुल की आवाजे सुनकर पड़ोसियों ने पुलिस को सूचना दे दी। पड़ोसी गीता की मदद के लिए आए तो शेखर मौके से भाग निकला। इस बीच एफआरबी आई तो लोगों ने उसके भागने की दिशा बता दी आखिरकार वह पकड़ा गया।

Back to top button