ख़बरदेश

होने लगी कड़ाके की ठंड, और जम गई नदी, Watch Video

कड़ाके की सर्दी तथा शीतलहर का प्रकोप जारी है। कश्मीर घाटी में न्यूनतम तापमान में लगातार गिरावट दर्ज की जा रही है। कड़ाके की ठंड के चलते लोगों को परेशानियों का सामना करना पड़ रहा है। ऐसे में जबकि समूचा उत्‍तर भारत कड़ाके की ठंड से गुजर रहा है और कई इलाकों में तापमान शून्‍य से भी नीचे चला गया है, हिमाचल प्रदेश में कई स्‍थानों पर नदियां और नाले जम गए हैं। खासकर लाहौल-स्‍पीति में जमा देने वाली ठंड पड़ रही है। बीते दिनों हुई बर्फबारी के बाद यहां ठंड का प्रकोप और बढ़ गया है। बर्फबारी और कड़ाके की ठंड के बीच लाहौल-स्‍पीति में चंद्रभागा नदी का पानी जम गया है।

इसका एक वीडियो भी सामने आया है

जिसमें नदी के एक हिस्‍से का पानी जमा नजर आ रहा है। नदी का पानी जम जाने की वजह से यहां पानी का प्रवाह भी कम हुआ है, जिससे नदी के जलस्‍तर में गिरावट दर्ज की गई है। इसकी वजह से थ‍िरोट स्थित घाटी की एकमात्र पनबिजली परियोजना के लिए पानी की कमी भी हो गई है। हिमाचल में बीते कुछ दिनों से जारी बर्फबारी और शीतलहर के कारण कई अन्‍य झील और ताल के भी जम जाने की सूचना है।

लाहौल-स्‍पीति में कड़ाके की सर्दी के बीच तापमान शून्‍य से 11.1 डिग्री सेल्सियस नीचे तक पहुंच गया है। लाहौल-स्‍पीति के केलांग में बुधवार को शून्य से 11.1 डिग्री सेल्सियस नीचे तापमान दर्ज किया गया तो मनाली, कल्पा, सोलन, चम्बा, श्योबाग, सुंदरनगर और भुन्टर में भी तापमान शून्य से नीचे रहा। राजधानी शिमला में तापमान 2.7 डिग्री सेल्सियस और डलहौजी में 1.6 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया।

क्रिसमस पर 25 दिसंबर को भी यहां शीतलहर का प्रकोप रहा। केलांग में मंगलवार को तापमान शून्य से 9.4 डिग्री सेल्सियस नीचे रहा तो मशहूर पर्यटक स्थल मनाली में तापमान शून्य से 3.2 डिग्री सेल्सियस नीचे दर्ज किया गया।

Back to top button