मायानगरी

सुभाष घई जबरदस्ती हेमा मालिनी को पहनाना चाहते थे बिकनी, फिर धर्मेंद्र ने किया था ये हाल !

बॉलीवुड की ड्रीम गर्ल यानि हेमा मालिनी अब पर्दे पर कम और राजनीति में ज्यादा दिखती हैं। वो मथुरा से बीजेपी की ओर से चुनाव लड़ी हैं। आज हम आपको हेमा मालिनी से जुड़ा एक किस्सा बताते हैं। हेमा मालिनी के पति धर्मेंद हमेशा से ड्रीम गर्ल को लेकर पोजेसिव रहते थे। आज हम आपको हेमा मालिनी और धर्मेंद्र के बारे एक बहुत ही पुरानी बात बताने जा रहे है जब धर्मेद्र ने हेमा मालिनी के चलते सुभाष घई पर हाथ भी उठा दिया था।

तो चलिए जानते है वो पूरी स्टोरी –

चेन्नई के अम्मनकुडी में जन्मी हेमा मालिनी ने साल 1979 में बॉलीवुड में ही मैंन के नाम से पहचान बनाने वाले धर्मेंद्र से शादी की थी। वही धर्मेंद्र हेमा मालिनी  के लिए शुरुआत से ही काफी पोजेसिव थे।

 

  • ड्रीम गर्ल के चलते धर्मेंद्र ने कई बार की लोगो से नोकझोक 

धर्मेंद्र का हेमा मालिनी  के कारन कई लोगो से अनबन हुई थी। इन्हीं में से एक थे डायरेक्टर शुभाष घई। दरअशल आपकी जानकारी के लिए बता दे की शुभाष घई मल्टी स्टारर फिल्म क्रोधी बना रहे थे। इस फिल्म में धर्मेंद्र, हेमा मालिनी, जीनत, और शशि कपूर भी अपना रोल निभा रहे थे।

  • क्या था पूरा मामला 

आप की जानकारी के लिए बता दे की लेहरे रेट्रो की रिपोर्ट के मुताबिक इस फिल्म के एक सिन में हेमा मालिनी  को बिकनी पहननी थी। जब सुभाष घई ने यह बात हेमा मालिनी  को बताई तो उन्होंने ऐसा करने से मना कर दिया था। लेकिन सुभाष घई ने हेमा मालिनी से कहा की ये सिन स्विमिंग पूल में शूट होना है। ऐसे में उन्हें बिकनी ही पहननी पड़ेगी।

  • फिर क्या हुआ था 

उसके बाद हेमा मालिनी सुभाष घई की इस बात से काफी नाराज हो गई थी। हालांकि हेमा मालिनी  बात पर फिर राजी हो गई थी की वह बिकनी की जगह कोई भी रिवीलिंग ड्रेस पहनेगी। इसके बाद ये सिन फिल्माया गया था।

  • क्या हुआ था जब यह बात धर्मेंद्र को पता चली थी 

आप की जानकारी के लिए बता दे की जब यह बात धर्मेंद्र को पता चली तब उन्हें बहुत ज्यादा गुस्सा आ गया था। और धर्मेंद्र ने फिर गुस्से में ही सुभाष घई को कई चांटे मार दिए थे। तभी फिल्म के निर्माता रंजीत बीज ने धर्मेंद्र को रोका और शमझाया था। रंजीत और धर्मेंद्र काफी अच्छे दोस्त थे।

  • फिर क्या हुआ था। 

रंजीत के मनाने के बाद धर्मेंद्र ने सुभाष घई को छोड़ दिया। लेकिन आप की जानकरी के लिए बता दे की धर्मेंद्र ने सुभाष घई को छोड़ते हुए चेताबनी भी दी थी। इसके बाद सुभाष घई ने डर के मारे फिल्म से वो सिन निकाल दिया था।

Back to top button