सेहत

हार्ट अटैक आने से पहले शरीर ऐसे देता है चेतावनी, जान बचानी है तो इनको पहचान लें

हार्ट अटैक की खबरें हम आये दिन सुनते ही रहते हैं। इससे कब और किसकी मौत हो जाये कुछ कहा नहीं जा सकता। दुनिया में लगभग एक चौथाई से ज्यादा लोगों की मौत हार्ट अटैक की वजह से होती है। दरअसल, आधे से ज्यादा लोगों को पता ही नहीं चलता कि उन्हें दिल से संबंधित कोई बीमारी है।

आपको बता दें कि हार्ट के जरिये ही शरीर के बाकी हिस्सों में खून और ऑक्सीजन की सप्लाई होती है। आसान शब्दों में कहें तो हार्ट खून को पंप करके शरीर के बाकी हिस्सों में पहुंचाता है। लेकिन जब ये पंप सही ढंग से काम नहीं करता तो खून और ऑक्सीजन को शरीर के बाकी हिस्सों में पहुंचाने में काफी दिक्कत होती है। ऐसा होने पर रक्त का प्रवाह बाधित हो जाता है और हार्ट अटैक की संभावना बढ़ जाती है। एक स्टडी के अनुसार, एशियाई लोगों में बाकी लोगों की तुलना हार्ट अटैक की संभावना ज्यादा रहती है। ऐसा क्यों है, इसकी वजह आज तक नहीं पता चल पाई है। हार्ट अटैक के तो वैसे कई कारण हो सकते हैं लेकिन 5 मुख्य कारण है जिन वजहों से हार्ट अटैक की संभावना बढ़ जाती है।

हार्ट अटैक के 5 मुख्य कारण : जेनेटिक,फ्रूट्स और वेजिटेबल्स कम खाना,एक्सरसाइज ना करना,हाई बीपी या डायबिटीज, स्मोकिंग। ध्यान रहे कि हार्ट अटैक अचानक से यूंही नहीं आ जाता। हार्ट अटैक आने से पहले बॉडी कुछ संकेत देती है। यदि आपको इन संकेतों के बारे में पता होगा तो आप समय रहते सतर्क हो सकते हैं। बता दें, हार्ट अटैक आने के 1 महीने पहले ही बॉडी कुछ महत्वपूर्ण संकेत देने लगती है। हार्ट अटैक आने के 1 महीने पहले से ही आप इन लक्षणों को महसूस करना शुरू कर देते हैं लेकिन कम ही लोगों का ध्यान इस पर जाता है।

थकान : यदि आपको असामान्य थकान होने लगे तो सतर्क हो जाईये। ये हार्ट अटैक पड़ने का एक महत्वपूर्ण लक्षण है। अधिकतर महिलाओं में ये लक्षण देखने को मिलता है। असामान्य थकान मतलब बहुत छोटे-छोटे कामों जैसे बिस्तर ठीक करना, स्नान करना आदि में थक जाना।

पेट में दर्द : वैसे तो पेट में दर्द एक आम समस्या है लेकिन यदि आपको अक्सर पेट में दर्द, सूजन, पेट खराब आदि की समस्या रहती है तो इसे हलके में ना लें। ये लक्षण महिलाओं और पुरुषों में सामान्य रूप से देखने को मिलते हैं। सांस में कमी : सांस में कमी के कारण भी हार्ट अटैक हो सकता है। यदि आपको काफी समय से ऐसा लगता है कि आपको पर्याप्त हवा नहीं मिल रही, चक्कर आना और सांस की तकलीफ हो रही है तो फ़ौरन डॉक्टर से मिलें।

अनिद्रा : अनिद्रा भी दिल के दौरे के खतरे को बढ़ा देती है। ये लक्षण महिलाओं में ज्यादा देखने को मिलते हैं। बाल झड़ना : बालों का झड़ना हृदय रोग का बड़ा जोखिम माना जाता है। आमतौर पर यह 50 से अधिक पुरुषों को प्रभावित करता है, लेकिन कुछ महिलाएं भी इसमें शामिल हो सकती हैं।

सीने में दर्द : छाती में दर्द केवल हार्ट अटैक पड़ने पर ही नहीं होता। विभिन्न तीव्रता और रूपों में छाती दर्द होता है। लेकिन यह लक्षण यदि पुरुषों में दिखे तो यह दिल के दौरे से संबंधित हो सकता है। केवल 30 फीसदी महिलाएं ही इस लक्षण से प्रभावित होती हैं।

Back to top button