उत्तर प्रदेश

यूपी : घोटाले की जांच के लिए पहुंची CBI टीम पर ग्रामीणों का हमला, 2 अफसर घायल

Image result for यूपी : घोटाले की जांच के लिए पहुंची CBI टीम पर ग्रामीणों का हमला, 2 अफसर घायल

ग्रेटर नोएडा । ग्रेटर नोएडा के गांव सुनपुरा में शनिवार की सुबह दबिश देने गयी सीबीआई की टीम पर ग्रामीणों ने हमला कर दिया। इसमें दो अधिकारी गंभीर रूप से घायल हो गए। मौके पर पुलिस के पहुंचने पर हमलावर फरार हो गये। सीबीआई के अधिकारी ने बताया कि 126 करोड़ रुपये के घोटाले में आरोपित बने सीबीआई इंस्पेक्टर सुनील दत्त को गिरफ्तार करने के लिए सीबीआई की टीम शनिवार को सुनपुरा गांव गयी थी। जैसे ही सीबीआई टीम आरोपित के घर पहुंची तो ग्रामीणों ने उन पर हमला कर दिया।

इस हमले में दो अधिकारी गंभीर रूप से घायल हो गए। इधर बवाल की सूचना मिलते ही थाना इकोटेक-3 थाना प्रभारी मय फोर्स घटनास्थल पर पहुंचे तो हमलावर मौके से फरार हो गए। पुलिस ने घायल सीबीआई अधिकारियों को अस्पताल में भर्ती कराया। थाना प्रभारी ने बताया कि तहरीर के आधार पर अज्ञात हमलावरों के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर जांच की जा रही है।

जानिए क्यों किया ग्रामीणों ने हमला

ग्रेटर नोएडा यमुना प्राधिकरण के 126 करोड़ रुपये के जमीन घोटाले की जांच यूपी सरकार ने सीबीआई से कराने की सिफारिश केंद्र सरकार ने की थी. सीबीआई ने अभी उस मामले की जांच शुरू भी नहीं की थी कि उस केस में आरोपियों को बचाने के नाम पर यूपी पुलिस के एक इंपेक्टर जो अब सीबीआई में डेपुटेशन पर है, सीबीआई को पता चला कि उनका ही इंस्पेक्टर वीके राठौर, एक तहसीलदार रणवीर और सीबीआई के एएसआई सुनील दत्त के साथ मिलकर मामले को रफा दफा कराने के नाम पर रिश्वत ले रहे है.

ये था मामला 

सीबीआई ने एक सूचना के बाद अपने ही इंस्पेक्टर वीके राठौर, तहसीलदार रणवीर को गिरफ्तार कर लिया था लेकिन एएसआई सुनील दत्त फरार होने में कामयाब हो गया था. आज सीबीआई को सूचना मिली कि सुनील दत्त ग्रेटर नोएडा के सुनपुरा गांव के एक फार्म हाउस में छुपा हुआ है. सीबीआई की 6 लोगों की टीम ने उस फार्म हाउस पर रेड की तो सीबीआई में तैनात सुनील के परिजनों ने उसे मौके से भगा दिया और टीम पर रॉड और डंडों से हमला कर दिया जिसमें सीबीआई के दो अधिकारी घायल हो गए.

ग्रेटर नोएडा के एसपी विनीत जयसवाल ने बताया 

एक टीम जांच के सिलसिले में सुनपुरा गांव गई हुई थी जहां आरोपी परिवार के लोगों ने टीम के साथ बदसलूकी की. केस दर्ज कर लिया गया है. घटना की जांच की जा रही है.

हिरासत में एक भाई

हालांकि सीबीआई ने रेड की जानकारी स्थानीय पुलिस को नहीं दी थी, लिहाजा आरोपी सुनील के परिजनों ने सीबीआई टीम को दौड़ा-दौड़ा कर पीटा, लाठी डंडों से पिट रही सीबीआई टीम ने जैसे-तैसे पुलिस को सूचना दी. सीबीआई की टीम को पिटाई की सूचना पाकर इकोटेक तीन की पुलिस फौरन मौके पर पहुंची और सीबीआई के लोगों को बचाया.

सीबीआई की टीम के साथ एक महिला अधिकारी भी थी. सुनील दत्त के पांच भाई हैं जिसमें 2 भाई सीबीआई में, एक दिल्ली पुलिस में जबकि एक आयकर विभाग में तैनात है. पुलिस ने इस मामले में सुनील के एक भाई युद्धवीर को हिरासत में लिया है.

Back to top button