देश

सुरक्षाबलों को बड़ी कामयाबी, 4 जैश आतंकियों का काम तमाम, टेररिस्ट बने 2 SPO भी ढेर

श्रीनगर. दक्षिण कश्मीर के पुलवामा जिले में सुरक्षा बलों के घेराबंदी एवं तलाश अभियान (कासो) के दौरान चार आतंकवादी मारे गये।  ठभेड़ वाली जगह से भारी मात्रा में हथियारों की बरामदगी भी हुई है। सुरक्षाबलों का कहना है कि इस बात की पहचान की जा रही है कि आतंकी किस संगठन से जुड़े हुए हैं। इस बीच आतंकी बने दो एसपीओ को भी मार गिराया गया है। बता दें कि हथियारों के साथ लापता हुए दोनों एसपीओ जैश- ए- मोहम्मद में शामिल हो गए थे।

जम्मू-कश्मीर के डीजीपी दिलबाग सिंह ने मीडिया से बात करते हुए बताया कि सुरक्षाबलों ने चार आतंकियों को ढेर किया है, इसमें दो SPO भी शामिल हैं। ये SPO गुरुवार को हथियार के साथ फरार हुए थे. करीब 18 घंटे के बाद ये ऑपरेशन खत्म हुआ, हालांकि अभी भी इलाके में इंटरनेट की सुविधा बंद की गई है साथ ही सुरक्षा को बढ़ाया गया है।

आधिकारिक सूत्रों ने शुक्रवार को बताया कि पुलवामा के लस्सीपोरा के पंजरान गांव में दो से चार आतंकवादियों की मौजूदगी की खुफिया सूचना मिलने के बाद गुरुवार शाम को राष्ट्रीय राइफल्स, राज्य पुलिस के विशेष अभियान समूह तथा केंद्रीय रिजर्व पुलिस बल के जवानों ने तलाश अभियान शुरू किया। जब सुरक्षा बल के जवान गांव के एक खास इलाके की ओर बढ़ रहे थे तो वहां छिपे आतंकवादियों ने स्वचालित हथियारों से अंधाधुंध गोलीबारी शुरू कर दी। सुरक्षा बलों की जवाबी कार्रवाई के बाद मुठभेड़ शुरू हो गयी।

मुठभेड़ के दौरान कल रात एक आतंकवादी मारा गया था। इसके बाद भी रूक-रूक कर गोलीबारी जारी रही। आज सुबह घेरे गये तंकवादियों के खिलाफ फिर से अभियान शुरू किया गया। जिसमें 3 और आतंकवादी मारे गये। सूत्रों के मुताबिक मारे गये तीनों आतंकवादियों के शव बरामद कर लिये गये हैं। मारे गये आतंकवादियों की अभी तक पहचान नहीं की जा सकी है। सुरक्षा बलों का अभियान अभी भी जारी है। किसी प्रकार के प्रदर्शन काे रोकने के लिए घटनास्थल और इसके आस-पास के इलाकों में अतिरिक्त सुरक्षा बलों तथा राज्य पुलिस के जवानों को तैनात किया गया है।  इसबीच प्रशासन ने अफवाहों को फैलने से रोकने के लिए एहतियात के तौर पर मोबाइल इंटरनेट सेवाओं पर रोक लगा दी है।

Back to top button