उत्तर प्रदेश

PM मोदी की काशी में प्रदूषण की चपेट में भगवान, भक्तों ने देवी देवताओं को पहनाया मास्क

देश की राजधानी दिल्ली सहित प्रमुख शहरों में बढ़ रहे वायु प्रदूषण के कारण छाए स्मॉग से बचने के लिए इंसान तो अपना बचाव कर ही रहा है। उसे अब देव विग्रहों के स्वास्थ्य की चिंता सताने लगी है। काशी पुराधिपति की नगरी में वायु प्रदूषण के खतरनाक स्तर पर पहुंचते ही अपने साथ देवी देवताओं की चिंता सताने लगी है। मंगलवार को सिगरा स्थित मंदिर में पुजारी हरीश मिश्र की देखरेख में महादेव सहित सभी देवी देवताओं को मास्क पहनाया गया।

पुजारी हरीश मिश्र ने कहा कि दीपावली के बाद से ही देश में वायु प्रदुषण का स्तर बढ़ गया है। जिसके चपेट में काशी भी आ चुकी है। यहां एयर क्वालिटी इंडेक्स 500 के करीब पहुंच चुका है। ऐसे में जहां लोग प्रदूषण रूपी जहर से बचने के लिए मास्क का प्रयोग कर रहे हैं। ऐसे में मंदिरों में स्थापित देवी देवताओं को भी मास्क पहनाया गया।

काशी में देवताओं के स्वास्थ्य की चिंता भक्तों को रहती है। ऐतिहासिक रथयात्रा मेला इसका गवाह है। अत्यधिक गर्मी पड़ने पर देव विग्रहों पर चंदन से लेपन किया जाता है। वैशाख मास में भगवान कृष्ण को शीतलता प्रदान करने के लिए अक्षय तृतीया से अनेक जतन किए जाते हैं। भगवान को गर्मी नहीं लगे, इसलिए चंदन का लेपन किया जाता है। पुजारी ने बताया कि ब्रज के मंदिरों में इसके लिए उत्सव भी होता है।

Back to top button