देशराजनीति

विदेशी पत्रकार ने बताया- जब मोदी के मंत्री ने मेरे मुंह में जबरन घुसा दी जुबान

मीटू अभियान में नित नई हस्तियां के नाम आ रहे हैं. इसी कड़ी में केंद्रीय विदेश राज्‍य मंत्री एमजे अकबर पर भी आरोप लगे हैं. मीटू मूवमेंट में कई मह‍िलाएं अपने साथ हुए शोषण का खौफनाक सच बता रही हैं और ऐसे में बॉलीवुड से लेकर कई बड़े नामों की ओर उंगलियां उठ रही हैं।  इस बीच अमेरिका की रहने वाली एक महिला पत्रकार ने भी एमजे अकबर को लेकर चौंकाने वाला खुलासा किया है। Huffington Post में छपी खबर के मुताबिक जब मैं 18 साल की थी और इंटर्न कर रही थी उस समय एमजे अकबर ने मुझे अपनी ओर खींचा और किस किया। इतना ही नहीं महिला पत्रकार ने बताया कि एमजे ने अपनी जीभ भी उनके मुंह में डालने की कोशिश की।

महिला पत्रकार का खुलासा, ‘उन्होंने कंधे के नीचे से मेरे हाथ को पकड़ लिया’

सीएनएन की महिला पत्रकार माजिलिदे प्यू कैंप ने खुलासा किया कि साल 2007 में एमजे अकबर ने उनका यौन उत्पीड़न किया था जब वह 18 वर्ष की थीं और The Asian Age अखबार में इंटर्न कर रही थीं। Huffington Post में छपी खबर के मुताबिक कैंप ने बताया कि उस दिन उनके इंटर्नशिप का आखिरी दिन था। वो एमजे अकबर के पास धन्यवाद देने के लिए गई थी जब उनके साथ ये घटना हुई।

इंटर्न के दौरान हुई घटना का किया जिक्र

माजिलिदे प्यू कैंप ने बताया, “मैंने कृतज्ञता के साथ अकबर के लिए अपना हाथ बढ़ाया तो उन्होंने कंधे के नीचे से मेरे हाथ को पकड़ लिया और अपनी तरफ खींच लिया। उन्होंने मेरे मुंह पर किस किया और जबरन अपनी जीभ मेरे मुंह में घुसाने लगे। इस दौरान मैं बस वहां खड़ी रही।” कैंप ने अपने ट्विटर अकाउंट पर भी इस घटना का जिक्र किया है।

एमजे अकबर पर कई और महिला पत्रकारों ने लगाए हैं आरोप

एमजे अकबर पर सीएनएन की महिला पत्रकार के आरोप लगाना अकेला मामला नहीं है। पत्रकार गजाला वहाब ने भी ‘द वायर’ वेबसाइट में आर्टिकल लिखकर अपनी आपबीती बयां की है। गजाला वहाब फोर्स न्‍यूज मैग्‍जीन की एग्‍जीक्‍यूटिव एडिटर हैं। उन्‍होंने आरोप लगाया कि एमजे अकबर उन्‍हें घूरते थे, अश्‍लील मैसेज भेजते थे। यहां तक कि आर्टिकल लिखते वक्‍त उन्‍हें अपने सामने बिठाते थे। यहां तक कि वह स्‍टैंड पर डिक्‍शनरी रखकर बार-बार उसे झुककर देखने के लिए कहते थे। एक बार तो उन्‍होंने केबिन में बुलाकर गजाला को जकड़ लिया था।

क्या होगा केंद्रीय मंत्री एमजे अकबर का इस्तीफा?

सोशल मीडिया पर चल रहे #MeToo के जरिए एमजे अकबर के खिलाफ अब तक करीब 10 महिला पत्रकारों ने गंभीर आरोप लगाए हैं। इन आरोपों के बाद केंद्रीय मंत्री एमजे अकबर के इस्तीफे की मांग भी जोर पकड़ने लगी है। खास तौर से कांग्रेस समेत प्रमुख विपक्षी पार्टियों ने केंद्रीय मंत्री के इस्तीफे की मांग की है। हालांकि सरकार से जुड़े सूत्रों के मुताबिक अभी ये साफ नहीं हुआ है कि एमजे अकबर पर कोई कार्रवाई की जाएगी या नहीं। फिलहाल इस मुद्दे पर चर्चा का दौर जारी है।

 

Back to top button