उत्तर प्रदेश

बैन झेल चुके योगी को आयोग का नया नोटिस, इस बार ‘बाबर की औलाद’ पर मांगा जवाब

विवादित बयान के चलते चुनाव प्रचार में 72 घंटे का प्रतिबंध झेल चुके उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ की मुश्किलें कम होने का नाम नहीं ले रही हैं. अब एक और बयान की वजह से चुनाव आयोग ने योगी को नोटिस जारी कर 24 घंटे के अंदर जवाब देने को कहा है.

दरअसल योगी ने महागठबंधन के उम्मीदवार को बाबर की औलाद कहा था जिसके बाद चुनाव आयोग ने अब उनसे 24 घंटे के अंदर जवाब मांगा है. ये बयान योगी आदित्यनाथ ने उस वक्त दिया था जब वो चुनाव आयोग के 72 घंटे के बैन के बाद पहली बार प्रचार के लिए उतरे थे. उन्होंने महागठबंधन के उम्मीदवार शफिकुर्रहमान बर्क के खिलाफ विवादित बयान दिया था.

योगी ने संभल में चुनावी सभा के दौरान कहा था, “जब मैं सांसद था तो मैंने एक बार एसपी के उम्मीदवार जो खुद सांसद थे, उनसे उनके पूर्वजों के बारे में पूछा. उन्होंने कहा कि हम बाबर के उत्तराधिकारी हैं. मैं हैरान था. एक तरफ, एक ऐसी पार्टी का उम्मीदवार है जो बाबा भीमराव अंबेडकर और गौतम बुद्ध से जुड़े स्थानों का विकास करता है, दूसरी तरफ विपक्ष का उम्मीदवार है जो खुद को बाबर की औलाद कहता है. जो वंदे मातरम नहीं गाना चाहता, जो बाबा साहब को माला पहनाने में असहज महसूस करता है वह आपके वोट के काबिल नहीं है.”

महागठबंधन ने इसकी शिकायत चुनाव आयोग से की थी और अब सीएम योगी को इस पर जवाब देना है.

Back to top button