देशराजनीति

केजरीवाल की एक जिद ने दिल्लीवालों को पेट्रोल-डीजल के लिए तरसा दिया, जानिए है क्या ?

दिल्ली में पेट्रोल-डीजल के दामों पर वैट नहीं हटाने के विरोध में आज को 400 पेट्रोल पंप और उनसे जुड़े सीएनजी पंप बंद हैं। मीडिया के हवाले से खबर आ रही है कि दिल्ली पेट्रोल डीलर्स एसोसिएशन (डीपीडीए) ने निर्णय लिया है कि पेट्रोल पंप आज को सुबह छह बजे से अगले 24 घंटों के लिए बंद हैं। अब तक पेट्रोल-डीजल की कीमतों में बढ़ोतरी से परेशान चल रहे लोगों के लिए ये नई मुसीबत पेश आई है और दावा ये है कि इसकी वजहकेजरीवाल सरकार है.

दिल्ली पेट्रोल डीलर्स एसोसिएशन (DDPA) ने कहा है राजधानी में करीब 400 पेट्रोल पंप ऐसे हैं, जिनसे सीएनजी स्टेशन भी जुड़े हुए हैं, यह सभी सोमवार को 24 घंटे के लिए बंद रखे जाएंगे. डीडीपीए का कहना है कि केजरीवाल सरकार ने तेल कीमतों पर वैटकम नहीं किया है, जिससे चलते उनकी बिक्री काफी कम हो गई है.

दरअसल, पेट्रोल-डीजल के दाम करीब 90 तक पहुंच रहे थे, जिसके मद्देनजर बीते 4 अक्टूबर को केंद्र सरकार ने एक्साइड ड्यूटी घटाकर जनता को राहत दी थी. सरकार ने तेल की कीमत में 2.50 रुपये की कटौती की थी.

केंद्र सरकार के इस फैसले के बाद उत्तर प्रदेश, मध्य प्रदेश, गुजरात, महाराष्ट्र, छत्तीसगढ़, उतराखंड, हिमाचल प्रदेश, झारखंड, हरियाणा, असम, त्रिपुरा और जम्मू कश्मीर सरकार ने भी वैट में कटौती कर जनता को राहत दी थी. जबकि दिल्ली के केजरीवाल सरकार ने ऐसा नहीं किया. प्रदेश बीजेपी इसे मुद्दा भी बना रही है और अब DDPA ने सरकार के इस स्टैंड को आधार बनाकर ही 24 घंटे की हड़ताल का आह्वान किया है.

केजरीवाल ने बताया साजिश

हालांकि, मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने आज की हड़ताल को भारतीय जनता पार्टी की साजिश करार दिया है. केजरीवाल ने इस मसले पर ट्वीट कर लिखा है, ‘पेट्रोल पंप मालिकों ने हमें निजी तौर पर बताया है कि यह हड़ताल बीजेपी प्रायोजित है. बीजेपी पेट्रोल पंप मालिकों पर यह थोप रही है. लगातार गंदी राजनीति के लिए जनता बीजेपी को चुनाव में जवाब देगी.’

Back to top button