उत्तर प्रदेश

Video: गुलाबी पैंट में पॉलिटिकल गुंडागर्दी, कौन है पिस्टल लहराने वाले लखनऊ का पांडे?

वायरल वीडियो से लिया गया स्क्रीन शॉट

राजधानी दिल्ली में आज ऐसा मामला सामने आया है जिसने सबसे होश उड़ा दिए बताते चले 5 स्टार होटल हयात के बाहर पूर्व बसपा सांसद राकेश पांडे का बेटा आशीष पांडे गुलाबी रंग की पैंट पहन पिस्टल लहराता हुआ दिख रहा है और वहां मौजूद कपल को धमका रहा है.

सोशल मीडिया पर वायरल हुए इस वीडियो में शख्स होटल के गेट के बाहर ही एक अन्य कपल को धमका रहा है. वायरल वीडियो में बंदूकधारी शख्स से साथ एक लड़की भी है, जो वहां मौजूद कपल को लगातार गालियां दे रही हैं.

बंदूक लहराने वाला शख्स आशीष पांडे का ताल्लुक पूर्वांचल के राजनीतिक परिवार से हैं. वह बहुजन समाज पार्टी (BSP) के पूर्व सांसद राकेश पांडे का बड़ा बेटा है. छोटा भाई रितेश पांडे अंबेडकर नगर की जलालपुर विधानसभा सीट से बसपा के विधायक हैं.

आशीष पांडे के चाचा पवन पांडे उत्तर प्रदेश बाहुबली नेताओं में गिने जाते हैं. पवन पांडे शिवसेना से विधायक रहे चुके हैं. 2014 के लोकसभा चुनाव में सुल्तानपुर से बसपा उम्मीदवार के तौर पर चुनाव लड़े थे, लेकिन बीजेपी उम्मीदवार वरुण गांधी के हाथों हार गए थे. पवन पांडे की सुल्तानपुर से लेकर फैजाबाद तक दबंग गई चलती है.

आशीष पांडेय मूलत: अंबेडकरनगर के जलालपुर क्षेत्र के रहने वाला है. फिलहाल लखनऊ में रहता है. गोमती नगर और हजरतगंज में इसके और परिवार के मकान हैं.

आशीष सियासत में कदम रखने के बजाय पिता के कारोबार को देखता है. वह शराब और रियल स्टेट का कारोबार करता है. इसके अलावा अकबरपुर इलाके में राइस मिल, वनस्पति-रिफाइन ऑयल फैक्ट्री, स्टील फैक्ट्री और ईट भट्टे का कारोबार है. आशीष इन्हीं कारोबार को संभालता है.

अशीष की पढ़ाई मार्शल स्कूल देहरादून से किया है. वह शुरू से ही शौकीन मिजाज का माना जाता है. 2006 में राकेश पांडे जब विधायक थे, उस दौरान उसने विदेशी बाइक खरीदी थी. दारुल सफा में इस बाइक को देखने के लिए भीड़ जुट गई थी.

आशीष से पिता राकेश पांडे पहली बार सपा से जलालपुर विधानसभा से विधायक चुने गए थे. इसके बाद उन्होंने बसपा का दामन थाम लिया और बसपा से भी जीतने में सफल रहे, लेकिन 2007 में सपा के शेर बहादुर से हार गए. इसके बाद 2009 में अकबरपुर से लोकसभा सीट से चुनाव जीतकर सासंद बने. 2014 में मोदी लहर में वो नहीं जीत सके.

बता दें कि हयात होटल मैनेजर के द्वारा दर्ज की गई शिकायत के अनुसार, 13 अक्टूबर की रात आशीष पांडे अपने तीन लड़की दोस्तों के साथ होटल गया था, जहां पर ये घटना हुई. आशीष पर आर्म्स एक्ट के तहत केस दर्ज कर लिया गया है.

दरअसल, आशीष जिस शख्स को बंदूक से डरा रहा है उसके साथ जो महिला है वह वॉशरूम में गई थी. गौरव(जिस पर पिस्टल तानी गयी) वीडियो में दिख रही लड़की के साथ हयात होटल के क्लब में गए थी. वोमिट होने पर गौरव उस लड़की के साथ लेडीज वाशरूम में गए, लेकिन उसी दौरान जब आशीष के साथ आई तीनों लड़कियां वॉशरूम में गयी तो गौरव वहां से निकल गया.

गौरव के बाहर जाते ही आशीष के साथ आई उन तीनों लड़कियों ने गौरव की लड़की दोस्त के साथ बदतमीज़ी की. गाड़ी में बैठने पर तीनों लड़कियों में से एक लड़की ने गौरव की दोस्त को अश्लील इशारा किया . इसके बाद गौरव ने भी उस लड़की को अश्लील इशारा किए. ये बात आशीष को बुरी लग गई , वह गाड़ी से पिस्टल लेकर उतरा और धमकाने लगा.

पुलिस के मुताबिक आशीष अभी भी फरार है, उसको ढूंढने की कोशिश की जा रही है एक टीम लखनऊ भी भेजी गई है. इस पूरी घटना के दौरान होटल के गार्ड सिर्फ वहां चुपचाप खड़े रहे. आशीष लगातार बंदूक लहराते हुए कपल को धमका ही रहा था कि इतने में एक अन्य व्यक्ति ने आकर बीच बचाव किया और समझा-बुझाकर उन्हें गाड़ी में बैठाया.

Back to top button