उत्तर प्रदेश

किसान ने योगी को भेजे मोदी वाले 2000 रुपए, बदले में मांगी मौत

सीएम योगी से मांगी इच्छामृत्यु की अनुमति

बीजेपी के नेतृत्व वाली केंद्र की NDA सरकार ने बड़े जोर-शोर से PM किसान सम्मान निधि योजना लागू की थी लेकिन एक बीच एक खबर ने लोगो के होश उड़ा दिए बताते चले ये मामला यूपी के आगरा से सामने आया है जहाँ  एक किसान ने न सिर्फ पहले क़िस्त में मिली 2000 रुपये की रकम वापस कर दी है बल्कि इच्छामृत्यु की भी मांग की है। आगरा के इस आलू किसान के ऊपर कर्ज बढ़ता जा रहा है जिससे परेशान होकर उसने उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ को खत लिखा है।

कर्ज में डूबे किसान ने लौटाए PM सम्मान निधि में मिले 2000 रु

अहिर ब्लॉक के जिला बड़ोली के 39 साल के प्रदीप शर्मा ने बताया कि उन्होंने सीएम योगी आदित्यनाथ को 2,000 रुपए भेज दिए हैं और अगर मुख्यमंत्री उनकी मदद नहीं कर सकते हैं तो वह उनको कम से कम इच्छामृत्यु की अनुमति दे दें। आलू किसान ने यह भी कहा कि उनपर 35 लाख रुपये का कर्ज है। शर्मा ने बताया कि उनका परिवार एक छोटे से किराये के मकान में रहता है।

कई बार मांगी मदद, हर बार खाली हाथ
उन्होंने बताया कि वह पहले भी जिला प्रशासन और राज्य सरकार से मदद मांग चुके हैं। वह पिछले साल दिसंबर केंद्रीय कृषि मंत्री राधा मोहन सिंह से भी मिलने गए थे लेकिन खाली हाथ ही लौटना पड़ा। शर्मा ने जिला अधिकारियों के सामने भी फसल को होने वाले नुकसान का मुद्दा उठाया लेकिन उन्हें कोई मुआवजा नहीं मिला।

सीएम योगी से मांगी इच्छामृत्यु की अनुमति

प्रदीप शर्मा ने बताया कि उन्होंने 2016 में फसल बर्बाद होने के बाद जिला प्रशासन और राज्य सरकार को पत्र लिखकर मदद मांगी लेकिन कभी कोई जवाब नहीं मिला। शर्मा कहते हैं, ‘पिछले साल दिसंबर में मैं केंद्रीय कृषि मंत्री राधामोहन सिंह से मिलने दिल्ली गया था, लेकिन वहां से भी खाली हाथ लौटना पड़ा।’ प्रदीप ने अपनी परेशानी का जिक्र करते हुए कहा कि जब 2015 में उनके चाचा की कर्ज के बोझ तले दबे होने कारण हार्ट अटैक से मौत हो गई तो लगा था कि जिला प्रशासन कुछ करेगा लेकिन कोई भी मदद के लिए आगे नहीं आया।

 

Back to top button