उत्तर प्रदेश

BJP के लिए मुसीबत बना योगी का बयान, चुनाव में कराएगा खूब नुकसान !

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ द्वारा भारतीय सेना को मोदी की सेना कहकर संबोधित करना बीजेपी के गले की हड्डी बन सकता है। योगी के बयान पर जहाँ न सिर्फ चुनाव आयोग ने इस पर संज्ञान लेते हुए गाज़ियाबाद के जिलाधिकारी से रिपोर्ट तलब की है वहीँ पूर्व नौसेना अध्यक्ष ने इस मामले में कड़ा रुख दिखाते हुए चुनाव आयोग को पत्र लिखा है।

राजनैतिक विश्लेषकों का मांनना है कि भारतीय सेना को मोदी की सेना बताने वाला उत्तर प्रदेश के सीएम योगी आदित्यनाथ का बयान चुनाव में बीजेपी को नुकसान पहुंचा सकता है। ऐसे में जब देश का बुद्धजीवी वर्ग मोदी सरकार से पहले ही नाराज़ है, योगी आदित्यनाथ का बयान उन परिवारों के लिए ठेस पहुंचाने वाला है जिनके परिवार का कोई सदस्य भारतीय सेना में नौकरी कर रहा है। जानकारों की माने तो योगी आदित्यनाथ के बयान से विपक्ष को एक और बड़ा हथियार मिल गया है। इस बयान का असर राजस्थान, हरियाणा और पंजाब जैसे राज्यों में पड़ सकता है। जहाँ सर्वाधिक सैनिक परिवार रहते हैं।

विश्लेषकों की माने तो योगी आदित्यनाथ के बयान को आधार बनाकर कांग्रेस और अन्य विपक्षी दल भारतीय सेना के अपमान का मामला जनता के बीच रख सकती है और इससे पाक में की गयी एयर स्ट्राइक से बीजेपी को मिल रहे फायदे की जगह नुकसान हो सकता है।

जानकारों का कहना है कि यदि योगी आदित्यनाथ के बयान को चुनाव आयोग ने आचार संहिता का उल्लंघन माना तो बीजेपी की और ज़्यादा किरकिरी हो सकती है। ऐसे में तय है कि विपक्ष अपने हाथ में आये इस मुद्दे को जनता के बीच बार बार उठाएगा और भाषणों में इस बात का उल्लेख अवश्य होगा कि बीजेपी एक तरफ देशभक्ति की बात करती है दूसरी तरफ भारतीय सेना का अपमान करती है।

फिलहाल देखना है कि योगी आदित्यनाथ के मोदी की सेना वाले बयान पर चुनाव आयोग क्या फैसला सुनाता है। लेकिन इतना तय है कि आने वाले दिनों में योगी आदित्यनाथ का बयान बीजेपी को भारी पड़ सकता है।

Back to top button