देशराजनीति

छत्तीसगढ चुनाव: रुझानों में खत्म हुआ रमन राज, कांग्रेस को भारी बहुमत

Related image

रायपुर. । छत्तीसगढ़ की सियासत के लिए मंगलवार का दिन काफी महत्वपूर्ण है। छत्तीसगढ़ विधानसभा के लिए 12 और 20 नवंबर को दो चरणों में मतदान हुआ था, जिसके नतीजे आने शुरू हो गए हैं। शुुरुआती रुझानों में कांग्रेस ने बहुमत हासिल कर लिया है और जादुई 45 के आंकड़े को पार करने के अलावा बड़ी जीत की ओर जाती दिख रही है।

छत्तीसगढ़ के सभी 90 सीटों के रुझान आ गए हैं। इनमें बीजेपी महज 24 सीटों पर आगे चल रही है, जबकि कांग्रेस की बढ़त 59 सीटों पर है। वहीं अजित जोगी की पार्टी 5 सीटों पर आगे हैं, जबकि 02 सीटों पर अन्य आगे चल रहे हैं। वहीं मुख्यमंत्री रमन सिंह ने राजनांदगांव विधानसभा क्षेत्र से कांग्रेस के प्रत्याशी करुणा शुक्ला से एक हजार वोटों से पीछे चलने के बाद फिर से बढ़त बना ली है। करुणा शुक्ला पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी की भतीजी हैं और रमन सिंह को कड़ी टक्कर दे रही हैं।
छत्तीसगढ़ में रमन सिंह सरकार के दो मंत्री पीछे चल रहे हैं। शिक्षा मंत्री केदार कश्यप 1050 वोटों से पीछे चल रहे हैं। वहीं आबकारी मंत्री अमर अग्रवाल भी अपने निकटतम प्रतिद्वंद्वी से 804 वोटों से पीछे हैं। राज्य के पूर्व मुख्यमंत्री अजित जोगी भी अपने चुनाव क्षेत्र मरवाही से पीछे चल रहे हैं। यहां से बीजेपी आगे है और कांग्रेस दूसरे नंबर पर है। छत्तीसगढ़ विधानसभा की 90 विधानसभा सीटों पर 76.3 फीसदी मतदान हुए हैं। कांग्रेस और बीजेपी के बीच सीधी टक्कर है।

छत्तीसगढ़ विधानसभा चुनाव के लिए पहले चरण में 12 नवंबर को नक्सल प्रभावित 18 विधानसभा सीटों पर और दूसरे चरण में 20 नवंबर को 72 सीटों पर वोटिंग हुई थी। कांग्रेस-बीजेपी दोनों दलों के लिए ये चुनाव करो-मरो की तरह है। उल्लेखनीय है कि बीजेपी के रमन सिंह लगातार तीन बार से यहां मुख्यमंत्री हैं। 2013 के चुनाव में बीजेपी को 49 सीटें मिली थीं, वहीं प्रमुख विपक्षी दल कांग्रेस को 41 सीटों से संतोष करना पड़ा था। हालांकि दोनों पार्टियों के बीच एक फीसदी से कम वोट शेयर का अंतर था। फिलहाल, चुनावी नतीजे आने के बाद यह भी तय हो जाएगा कि अजीत जोगी की पार्टी बसपा से मिलकर किंगमेकर बन पाई या नहीं।

Back to top button