उत्तर प्रदेशख़बर

BREAKING: बड़े बीजेपी नेता की अचानक मौत, सदमे में पूरी पार्टी

रविवार का दिन उत्तर प्रदेश बीजेपी के लिए मनहूस खबर लेकर आया है. लखीमपुर खीरी जिले की निघासन सीट से भाजपा विधायक पटेल रामकुमार वर्मा का लंबी बीमारी के बाद लखनऊ के मिडलैंड अस्पताल में निधन हो गया.

राम कुमार वर्मा काफी समय से बीमार चल रहे थे. लखनऊ के मिडलैंड हॉस्पिटल कपूरथला में इलाज चल रहा था. उनके निधन से पार्टी कार्यकर्ताओं के साथ ही क्षेत्रवासियों में शोक छाया हुआ है. ऐसा इसलिए क्योंकि उन का अपने क्षेत्र में एक अलग ही प्रभाव रहा है. वह हर वक्त अपने कार्यकर्ताओं के साथ खड़े रहते थे.

उन्होंने 1989 में लखीमपुर खीरी के हैदराबाद गोला से विधान सभा का चुनाव लड़े और जीत हासिल की. साथ ही 1991 में भी पुन: जीत हासिल कर विधायक बने. वहीं भाजपा विधान मण्डल दल के सचेतक का भी दायित्व संभाला. 1991 में लोक निर्माण विभाग एवं राज्य सम्पत्ति विभाग के राज्यमंत्री एवं कैबिनेट मंत्री के रूप में कार्य किया. भाजपा ने 1993 में फिर टिकट देकर प्रत्याशी बनाया और पटेल ने पुन: कमल खिला दिया.

1997 में पार्टी ने लखीमपुर जनपद के निघासन क्षेत्र से उम्मीदवार बनाया. पटेल ने वहां भी भारी मतों से विजय हासिल की. इसी दौरान कल्याण सिंह की सरकार में सहकारिता मंत्री का पदभार ग्रहण कर नए कीर्तिमान स्थापित किए. इस बार उनको भले ही योगी सरकार में जगह न मिली हो फिर भी उनके मन में सरकार के प्रति कोई नाराजगी नहीं थी.

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button