उत्तर प्रदेशराजनीति

क्या आजम भी होंगे अखिलेश से अलग, शिवपाल के साथ जाने के लगे पोस्टर

लखनऊ। यूपी में समाजवादी पार्टी में चल रहे घमासान में एक बड़ी खबर आ रही है.  उत्तर प्रदेश में साल 2019 में लोकसभा चुनाव होने वाले हैं इस चुनाव से पहल हर सियासी दल अपने-अपने तरीके से राजनीति करने में जुटा हुआ है। फिलहाल यूपी में जिस बात को लेकर चर्चा सबसे तेज है, वो है शिवपाल सिंह यादव की पार्टी सेक्युलर मोर्चा और समाजवादी परिवार। सपा से शिवपाल यादव के जाने के बाद अब आजम खान के पार्टी छोड़ने की चर्चाएं जोरों पर है। इन चर्चाओं को हवा देने का काम कर रहा है सोशल मीडिया। सोशल मीडिया पर इस तरह की खबरों को फैलता देख समाजवादी कुनबे में खलबली मची हुई है। पहले मुलायम सिंह की बहू अपर्णा ने शिवपाल का साथ दिया और क्या अब आजम खान?

मेरठ में सपा के कार्यकर्ता सोशल मीडिया पर वायरल हो रहे एक पोस्ट की कॉपी लेकर थाने पहुंचे। समाजवादी कार्यकर्ताओं ने सोशल मीडिया पर इस तरह की फालतू खबरों के खिलाफ पुलिस से कार्रवाई की मांग की है। कार्यकर्ताओं का कहना है कि सोशल मीडिया पर पार्टी के नाम को बदनाम करने के लिए इस प्रकार की साजिश की जा रही है। उनका कहना था कि आजम खान पार्टी के इमानदार नेता हैं वो पार्टी से कभी बगावत नहीं करेंगे।

कार्यकर्ताओं ने आजम खान द्वारा पार्टी छोड़ने के कयासो पर विराम लगाते हुए कहा कि शिवपाल यादव भाजपा के इशारे पर काम कर रहे तथा अपनी राजनीति कर रहे हैं। इसी बीच आजम खान को बदनाम करने की भी साजिश की जा रही है। फिलहाल पुलिस ने इस मामले में केस दर्ज कर लिया है और आगे की कार्रवाई में जुट चुकी है। सपा के मेरठ जिलाअध्यक्ष राजपाल सिंह ने कहा कि विरोधी दलों द्वारा सपा तथा आजम खान के नाम के साथ खिलवाड़ किया जा रहा है। सोशल मीडिया पर नाम खराब करने के लिए साजिश रची जा रही है। पुलिस ने इस मामले में शिकायत दर्ज कर ली है। पुलिस ने आईटी एक्ट के तहत इस मामले में मुकदमा दर्ज कर लिया है।

Back to top button