देश

किसे बोले गुस्साए केजरीवाल– तुम होते कौन, क्या तुम्हारे बाप की है दिल्ली ?

तुम लोग कौन होते हो दिल्ली को पूर्ण राज्य का दर्जा देने वाले, क्या दिल्ली तुम्हारे बाप की है? ये शब्द दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल के हैं और निशाने पर बीजेपी है. लोकसभा चुनाव की तारीखों का ऐलान होते ही केजरीवाल एक्शन में आ चुके हैं. मुख्यमंत्री साहब ने बीजेपी से टक्कर लेने के लिए पूर्ण राज्य के मुद्दे को फिर से हवा दे दी है. दिल्ली को पूर्ण राज्य का दर्ज दिलवाने की मांग को लेकर आम आदमी पार्टी के मुख्यालय में बुधवार को बीजेपी के 2014 के घोषणा पत्र को आग के हवाले किया गया.

सैकडों की संख्या में पहुंचे पार्टी के कार्यकर्ताओं के सामने केजरीवाल ने दिल्ली के बीजेपी अध्यक्ष मनोज तिवारी पर तीखा हमला बोला. उन्होंने कहा कि, मनोज तिवारी कौन होता है दिल्ली को पूर्ण राज्य देने वाला? पूर्ण राज्य दिल्ली के लोगों का हक है. उन्हें उनका हक दे दो, दिल्ली के लोगों को मजबूर मत करो वरना दिल्ली की जनता छीनकर अपना हक ले लेगी.केजरीवाल ने आगे कहा कि, देश को आजाद कराने के लिए भगत सिंह,अशफाक उल्ला खान, सुखदेव और राजगुरु ने कुर्बानी दी थी, मनोज तिवारी और नरेंद्र मोदी जी के पिताजी ने कुर्बानी नहीं दी थी.

केजरीवाल ने कहा कि पिछले 4 सालों में हमारी सरकार ने अपने अधिकार क्षेत्र में आने वाले सभी काम जैसे बिजली, पानी, अस्पताल, स्कूल, सड़क, नालियां, सीवर आदि पर बहुत काम किया हैं.  हालांकि इन कार्यों को करने में भी केंद्र सरकार ने  हजारों अडचनें लगाने की कोशिश की थी. सीसीटीवी कैमरे की फाइल पास करवाने के लिए मुझे , मनीष सिसोदिया और सतेंद्र जैन को उपराज्यपाल के घर में घुसकर 10 दिन तक धरना देना पड़ा था.  इसी तरह से स्कूल बनवाने, अस्पताल बनवाने और अन्य चीजों को बनवाने के लिए एक-एक फाइल पास करवाने के लिए उप-राज्यपाल से लड़ना पड़ता है.
प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर हमला बोलते हुए अरविंद केजरीवाल ने कहा कि आज बीजेपी अटल बिहारी वाजपेयी जी की अस्थियों को राजनीति के लिए इस्तेमाल कर रही है. स्वर्गीय अटल बिहारी वाजपेयी जी ने तो खुद संसद में खड़े होकर दिल्ली के लिए पूर्ण राज्य की मांग की थी. अगर, मोदी जी सच में अटल बिहारी वाजपेयी जी का सम्मान करते हैं, तो दिल्ली का पूर्ण राज्य का हक दें. अटल जी की अस्थियों पर राजनीति ना करें.
Back to top button