उत्तर प्रदेश

शमशान में अर्थी बाबा का दफ्तर, चुनाव लड़ रहे यूपी की सबसे हॉट सीट पर

गोरखपुर के शमशान घाट पर बनाया कैम्प कार्यालय

आगामी लोक सभा चुनाव का आगाज़ हो चुका है| इस चुनाव में सियासी घमासान के बीच नेताओं की तरफ से आपत्तिजनक बयानबाजी भी तेज हो गई है। सभी पार्टियों ने चुनाव के  के मद्देनजर पार्टियों का चुनावी अभियान जारी है| अपनी जीत सुनिश्चित करने के लिए सभी दिग्गज उम्मीदवार अपने संसदीय क्षेत्रों का दिन-रात दौरा कर रहे हैं और अच्छा  माहौल बनाने की कोशिश में जुटे हैं|  इसी सब के बीच बताते चले  इस चुनाव में सभी पार्टियों के दिग्गज  नेता रैली, रोड शो, और पब्लिक मीटिंग और घर-घर जाकर लोगों से वोट मांग रहे हैं।

इस बार का चुनाव बेहद दिलचस्प होने वाला है| और खासकर गोरखपुर सीट क्योंकि एक बार फिर इस यहाँ   रहने वाले राजन यादव उर्फ अर्थी बाबा एक बार फिर चर्चा में हैं। दरअसल, सभासद से लेकर राष्ट्रपति तक का चुनाव लड़ने वाले अर्थी बाबा ने लोकसभा चुनाव में अखिलेश यादव और निरहुआ के खिलाफ ताल ठोंंक दी है। जी हां, अर्थी बाबा ने लोकसभा चुनाव में आजमगढ़ से लड़ने का ऐलान किया है।

जानिए कौन है अर्थी बाबा 

बताते चले राजन यादव उर्फ अर्थी बाबा का कहना है कि उन्होंने अपना कैम्प कार्यालय गोरखपुर के श्मशान घाट पर बनाया है, क्योंकि आजमगढ़ में उनकी जान को खतरा है। एक तरफ पूर्व मुख्यमंत्री अखलेश यादव, दूसरी तरफ निरहुआ दोनों के पास सुरक्षा है। यहां तक की नाचने गाने वाले को बीजेपी ने अपना प्रत्याशी बनाकर उतार दिया और उसे भी वाई ग्रेट की सुरक्षा दे दी गई, क्योंकि बिना सुरक्षा के वहां कोई चुनाव नहीं लड़ सकता है, इसलिए मैंने यहां पर अपना कैम्प कार्यालय खोला है। जब तक चुनाव आयोग मुझे सुरक्षा नहीं देगा तब तक मैं यहा अपना कैम्प कार्यालय बनाकर बैठूंगा।

अखिलेश यादव और एक नचनिया को बीजेपी ने खड़ा किया है

राजन का कहना है कि आजमगढ़ से चुनाव लड़ रहा हैं, क्योकि वहां से अखिलेश यादव और एक नचनिया को बीजेपी ने खड़ा किया है, तो मैं भी बाहर यानी गोरखपुर से होकर वहां से चुनाव लडूंगा। अपना कार्यालय गोरखपुर के श्मशान घाट पर खोला है। अर्थी पर बैठकर आया हूं और सेनेटरी पैड का माला पहनकर ये साबित कर रहा हूं कि सेनेटरी की अर्थी निकल चुकी है।

इस बीच बताते चले आजमगढ़ सदर लोकसभा से  समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव के खिलाफ चुनाव लड़ रहे दिनेश लाल यादव उर्फ निरहुआ के मित्र वह भारतीय समाज पार्टी के प्रदेश महासचिव शशि प्रकाश सिंह उर्फ मुन्ना सिंह समेदा की प्रेरणा से निरहुआ का समर्थन करते हुए नारायणी सेना के राष्ट्रीय अध्यक्ष श्रीकांत यादव ने लखनऊ विधानसभा के सामने मीडिया से वार्ता के दौरान कहा कि दिनेश लाल यादव उर्फ निरहुआ को भारी मतों से चुनाव जीता कर लोकसभा में भेजने की बात कही ।

नारायणी सेना के राष्ट्रीय अध्यक्ष श्रीकांत यादव ने कहा कि समाजवादी पार्टी ने यादव समाज को हमेशा ढ़गने का कार्य किया है । समाजवादी पार्टी ने कभी किसी यादव महापुरुष का सम्मान बढ़ाने का काम नहीं किया ना ही उनकी जीवनी पर कार्य किया । श्रीकांत यादव ने कहा कि  अखिलेश यादव जब मुख्यमंत्री थी तो हमने नारायणी सेना के कार्यकर्ताओं को लेकर दो बार अखिलेश यादव से मुलाकात किया और यादव बिरादरी के सम्मान में वीर लोरिक, चौरी चौरा कांड के नायक भगवान अहीर की शहादत में मूर्ति लगवाने के साथ ही साथ उनके इतिहास को जीवंत करने के लिए कहा लेकिन यादवों के हिमायती बनने वाले अखिलेश यादव ने कभी भी यादवों की भलाई के लिए ध्यान नहीं दिया ।

Back to top button