ख़बरदेश

क्या अनिल अंबानी को दिख रहा है सत्ता-परिवर्तन, कांग्रेस के खिलाफ केस लिए वापस

लोकसभा चुनाव संपन्न होते ही उधोगपति अनिल अंबानी के तेवर ढीले पड़ गए हैं. अंबानी ने कांग्रेस नेताओं और नेशनल हेराल्ड अख़बार के खिलाफ दायर किये गए पांच हज़ार करोड़ रुपये के मानहानि के केस को वापस लेने का एलान किया है.

गौरतलब है कि राफेल डील को लेकर कांग्रेस ने कारोबारी अनिल अंबानी का नाम ज़ोर शोर से लिया था. लोकसभा चुनाव के प्रचार के दौरान भी कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने राफेल डील को लेकर मोदी सरकार पर कड़े हमले बोले थे. उन्होंने अपनी चुनावी सभाओं में पीएम मोदी पर राफेल डील की आड़ में उधोगपति अनिल अंबानी को फायदा पहुंचाने का आरोप लगाया.

कांग्रेस से जुड़े अख़बार नेशनल हेराल्ड ने अनिल अंबानी की कंपनी रिलायंस डिफेन्स को लेकर एक बड़ी खबर प्रकाशित की थी. इस खबर में कहा गया था कि अनिल अंबानी ने मोदी द्वारा डिफेंस डील की घोषणा करने से मात्र 10 दिन पहले रिलायंस डिफेंस नामक कंपनी बनाई है.

रिलायंस ग्रुप ने इस खबर को सम्मान ही हानि बताते हुए याचिका दाखिल की थी. इस याचिका में आरोप लगाया था कि लेख का शीर्षक झूठ और अपमानजनक है और यह लेख जनता को गुमराह करने वाला है. याचिका में कहा गया था कि ये लेख रिलायंस ग्रुप की नकारात्मक छवि पेश करती है और अनिल अंबानी की छवि को नुकसान पहुंचाती है. याचिका में कहा गया था कि इससे उनकी गुडविल को नुकसान पहुंचा है और उनकी प्रतिष्ठा धूमिल हुई है. इसकी भरपाई के लिए 5000 करोड़ दिया जाए.

ये केस पिछले साल 16 अगस्त को दायर किया गया था. इस मुकदमे की सुनवाई अहमदाबाद की एक अदालत में चल रही थी. अब रिलायंस ग्रुप के वकील रशेष पारिख ने कहा हे कि अब ये पुरा मामला सुप्रीम कोर्ट में है. उन्होंने कहा कि इस बावत नेशनल हेराल्ड को भी जानकारी दे दी गई है. नेशनल हेराल्ड के वकील पी एस चंपानेरी ने बताया कि उन्हें रिलायंस ग्रुप के वकील ने सूचना दी है कि वे केस वापस ले रहे हैं.

Back to top button