उत्तर प्रदेशख़बर

अलीगढ : पोस्टमार्टम रिपोर्ट में सामने आयी दरिंदो की हैवानियत, पढ़ कर कांप जायेगी आपकी रूह

मासूम बच्ची की पोस्टमॉर्टम रिपोर्ट देख आपका कलेजा कांप उठेगा,  बर्बरता की पराकाष्ठा पढ़ने के लिए जुटानी पड़ेगी हिम्म
वायरल
अलीगढ़ । अलीगढ़ में एक पिता जब कर्ज नहीं चुका सका तो देनदारों ने उसकी ढाई साल की बेटी की गला दबाकर हत्या कर दी और बाद में उसकी आंखें निकाल दी गईं। ढाई साल की मासूम बच्ची की हत्या का मामला तूल पकड़ता जा रहा है। इस चर्चित टिंकल हत्याकांड में सुबह कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी और बाद में प्रियंका गांधी वाड्रा द्वारा परिजनों के साथ जताई गयी सहानुभूति ने सियासी तूफ़ान ला दिया है। पुलिस महानिदेशक लॉ एंड आर्डर आनंद कुमार ने इस मामले की जांच के लिए शुक्रवार को एसपी ग्रामीण मणिलाल पाटीदार के नेतृत्व में एसआईटी गठित कर दी है। इसमें सीओ खैर पंकज श्रीवास्तव के निर्देशन में 4 विवेचक जांच करके 15 से 20 दिन में रिपोर्ट देंगे। विवेचकों में इन्स्पेक्टर टप्पल, इंस्पेक्टर महिला थाना सहित 4 इंस्पेक्टर शामिल हैं।
डीजी ला एंड आर्डर ने बताया
इस मामले को पुलिस विभाग काफी गंभीरता से ले रहा है। दोषियों को सख्त सजा दिलाने के लिए हर जरूरी कदम उठाये जा रहे हैं। बच्ची की हत्या में शामिल दो आरोपितों को पहले ही गिरफ्तार किया जा चुका है। उन्होंने कहा कि यह मामला फास्ट ट्रैक कोर्ट में चलाया जाएगा, जिससे जल्द से जल्द दोषियों को सजा दिलाई जा सके। इस मामले में पाक्सो एक्ट के तहत भी कार्रवाई की जाएगी। इस मामले में सीओ की जांच रिपोर्ट आने के बाद गुरुवार को ही इंस्पेक्टर केपी सिंह चहल सहित पांच पुलिस कर्मियों को एसएसपी ने निलंबित कर दिया था।
मासूम टिंकल 30 मई को लापता हो गयी थी। 31 मई को गुमशुदगी दर्ज करने के बाद भी पुलिस इस मामले में सक्रिय नहीं हुई और दो जून को सुबह उसका शव जाहिद के घर के पास मिला था।
Image result for अलीगढ़ : पोस्टमार्टम रिपोर्ट
बच्ची का शव काफी क्षत-विक्षत अवस्था में था। इसके बाद से ही सोशल मीडिया पर यह मामला काफी उछलता रहा। आज कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी और महासचिव प्रियंका गांधी ने ट्वीट कर इसे अमानवीय घटना बताया है। राहुल गांधी ने ट्वीट कर लिखा ‘यूपी के अलीगढ़ में एक छोटी बच्ची की भयानक हत्या ने मुझे झकझोर कर रख दिया है। कोई भी इंसान इतनी बर्बरता के साथ ऐसा कैसे कर सकता है? इस मामले को लेकर यूपी पुलिस को तेजी से कार्रवाई करनी चाहिए।
प्रियंका गांधी ने लिखा
‘अलीगढ़ की मासूम बच्ची के साथ हुई अमानवीय और जघन्य घटना ने हिलाकर रख दिया है। हम ये कैसा समाज बना रहे हैं? बच्ची के माता-पिता पर क्या गुजर रही है ये सोचकर दिल दहल जाता है। अपराधियों को कड़ी से कड़ी सजा मिलनी चाहिए।’  इसके बाद पुलिस महानिदेशक लॉ एंड आर्डर आनंद कुमार ने इस मामले की जांच के लिए शुक्रवार को एसपी ग्रामीण मणिलाल पाटीदार के नेतृत्व में एसआईटी गठित कर दी है।

पोस्टमार्टम रिपोर्ट में खुलासा

पोस्टमार्टम रिपोर्ट के मुताबिक, मौत का कारण दम घुटना, लेफ्ट चेस्ट पर पिटाई, सारी पसलियां टूटी हुई, बायें पैर में फ्रैक्चर, आंखों पर जख्म, सिर में चोट, सीधा हाथ कंधे की तरफ से कटा हुआ है, बहुत ज़्यादा पीटा गया है. इसके साथ ही बॉडी में कीड़े पड़ गए थे, जिससे हड्डी तक एक्सपोज़ हो रही है.

हंगामे के बाद टूटी पुलिस की नींद

सोशल मीडिया पर हंगामा मच गया. मामले ने हिंदू मुसलमान का रंग ले लिया. लोग पूछने लगे कि क्या बच्चियों का भी धर्म देख कर इस देश में कानून और बुद्धिजीवी अपनी चुप्पी तोड़ते हैं?  तब जा कर पुलिस की नींद टूटी. बड़े अधिकारी कूदे, पोक्सो जैसे गंभीर कानून के तहत कार्रवाई करने की बात कही जाने लगी. पांच पुलिसकर्मी सस्पेंड कर दिए गए.

पहले भी गिरफ्तार हो चुका है असलम

इस मामले में पुलिस दो आरोपियों को गिरफ्तार कर चुकी है. मोहम्मद असलम पहले भी गिरफ्तार हो चुका है. वह 2014 में अपनी रिश्तेदार बच्ची के साथ यौन शोषण 376 के आरोप में गिरफ्तार हुआ था. इसके बाद 2017 में उस पर दिल्ली के गोकलपुरी में छेड़छाड़ और अपहरण का मामला दर्ज है.

अलीगढ़: मासूम की पोस्टमॉर्टम रिपोर्ट वायरल, झकझोर देने वाले हैं तथ्य, सोशल मीडिया पर फूटा गुस्सा

ये हैं रिपोर्ट के कुछ अंश

:o: बच्ची के शरीर में छोटी व् बड़ी आंत मिली ही नहीं
:o: बच्ची के शरीर में किडनी भी नहीं मिली है

:o: यूरिनरी ब्लैडर भी नहीं मिला हैं
:o: जेनिटल्स मिले ही नहीं
:o: बच्ची के शरीर में आंखें थी ही नहीं
:o: बच्ची के हाथ पैर उसकी हत्या से पूर्व काटे गए थे

:0: सीधा हाथ जड़ से उखड़ा हुआ है

अलीगढ़: मासूम की पोस्टमॉर्टम रिपोर्ट वायरल,  janman.tv इस रिपोर्ट की पुष्टि नहीं करता 

Back to top button