मायानगरी

50 के हुए सिंघम: ऐसी थी अजय देवगन की लव स्टोरी, काजोल से मिलाने में ​एक हिरोइन ने दिया था साथ

बॉलीवुड के सिंघम अजय देवगन ने आज अपनी जिंदगी के 50 वर्ष पूरे कर लिए हैं। बहु​त ही शांत से दिखने वाले और फिल्मी पर्दे पर खतरनाक स्टंट करने वाले अजय का दिल चुलबुली बॉलीवुड एक्ट्रेस काजोल पर आ गया था। दोनों ही बॉलीवुड जगत के बहुत खूबसूरत कपल माने जाते हैं। उनकी लव कैमेस्ट्री की चर्चा भी अक्सर होती हैं। अजय देवगन और काजोल की जोड़ी बॉलीवुड के फेमस हसबैंड-वाइफ लिस्ट में शामिल हैं। इस जोड़ी की प्रेम कहानी भी बहुत आसान नहीं रही हैं। हर आम लव स्टोरी की तरह ही इन्हें भी अपने जीवन में कई उतार चढ़ाव का सामना करना पड़ा।

दोनों ने अपनी शादी का फैसला उस समय लिया, जब काजोल अपने कॅरियर में पीक पर थी।’कुछ कुछ होता है’ जैसी ब्लॉक बस्टर फिल्म देने के बाद वह चोटी की अभिनेत्री थीं। अजय और काजल की जोड़ी साल 1995 में फिल्म ‘हलचल’ में नजर आई थी। लोगों का कहना है कि दोनों का प्यार इसी फिल्म से पनपा था। 1995 में इनकी एक और फिल्म ‘गुंडाराज’ रिलीज हुई। हालांकि तब तक इस अफेयर को शक्ल नहीं मिली थी।

करण जौहर की ​फिल्म ‘दिलवाले दुल्हनिया ले जाएंगे’ की रिलीज के बाद काजोल बड़ी स्टार बन गई थी। इस फिल्म के बाद उनका नाम उनके कोस्टार और दोस्त शाहरुख के साथ जुड़ने लगा। इस बीच काजोल और अजय के बीच बातचीत तो हुई लेकिन इनके बीच रोमांस परवान न चढ़ा, क्योंकि शाहरुख और काजल का साथ में नाम जुड़ना अजय को पसंद नहीं आया। 1998 में रिलीज हुई फिल्म ‘प्यार तो होना ही था’ में दोनों ने अपनी-अपनी मोहब्बत का इजहार किया।

इस फिल्म के बाद ही 24 फरवरी साल 1999 में दोनों ने महाराष्ट्रियन तरीके से यह शादी कर ली। शादी के बाद भी काजल पहले की तरह ही फिल्में करती रहीं। शादी के बाद उनकी अजय देवगन के साथ ही ‘राजू चाचा’, ‘दिल क्या करे’ जैसी फिल्में आईं। उस समय लोग काजोल और शाहरुख की जोड़ी पर लोग पर्दे पर पसंद करते थे, उनकी जोड़ी सबसे अच्छी जोड़ियों में शुमार थी। काजोल और अजय देगवन की शादी के बाद यह बात अजय देवगन को खटकने लगी कि दर्शक काजोल को शाहरुख खान के साथ पसंद करते हैं।

शाहरुख के साथ काजोल की जोड़ी काजोल की शादी के बाद 2001 में रिलीज हुई फिल्म ‘कभी खुशी कभी गम’ में भी दिखी। इस फिल्म के बाद काजोल ने फिल्मों से ब्रे​क लिया। लंबे ब्रेक के बाद वे साल 2006 में फना में नजर आईं। आखिरी बार काजोल और शहरुख की जोड़ी फिल्म दिलवाले में नजर आई थी।

अजय और काजोल को मिलाने में काजोल की बहन तनीषा का बहुत बड़ा हाथ रहा है। एक इंटरव्यू में तनीषा ने बताया था कि शुरुआती दौर में जब काजोल और अजय में प्रेम की शुरुआत हुई थी तब वह ही अजय के सारे मैसेज और गिफ्ट्स काजोल को पहुंचाया करती थीं। यहां तक कि दोनों के मिलने की जगह भी तनिषा ही तय करती थीं। चूंकि काजोल ने काफी दिनों के बाद अपने परिवार वालों से अजय के बारे में बताया था।

तनिषा ने बताया कि उनकी मां तनुजा ने काजोल और अजय के बारे में जानने के बाद, इस रिश्ते को जल्दी ही स्वीकार कर लिया था, क्योंकि तनुजा अजय के पिता वीरु देवगन को पसंद करती थी। वे उनके काम की फैन थी। उन्हें लगा कि अजय भी अपने पिता की तरह ही होंगे।

Back to top button