राजनीति

आखिरकार बिहारी बाबू ने थामा कांग्रेस का हाथ, कहा-सबको पता BJP क्यों छोड़ी

शत्रुघ्न सिन्हा ने थामा कांग्रेस पार्टी का 'हाथ', पटना साहिब से लड़ सकते हैं चुनाव

नयी दिल्ली.  मशहूर अभिनेता शत्रुघ्न सिन्हा ने शनिवार को कांग्रेस का हाथ थाम लिया।  सिन्हा ने आज कांग्रेस मुख्यालय में आयोजित संवाददाता सम्मेलन में कांग्रेस महासचिव के. सी. वेणुगोपाल, पार्टी के मुख्य प्रवक्ता रणदीपसिंह सुरजेवाला तथा बिहार के पार्टी प्रभारी शक्तिसिंह गोहिल की मौजूदगी में पार्टी की सदस्यता ग्रहण की।
सिन्हा भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के टिकट पर 2014 में लोकसभा पहुंचे थे और वह काफी समय से पार्टी नेतृत्व से नाराज़ चल रहे थे। पिछले महीने कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी से सिन्हा ने उनके आवास पर यह मुलाकात की थी और तभी से ही उनका कांग्रेस में शामिल होना तय माना जा रहा था। उसके बाद उन्होंने खुद तय किया था कि वह नवरात्र की शुरुआत में 6 अप्रैल को कांग्रेस में शामिल होंगे।

आज कांग्रेस दफ्तर में केसी वेणुगोपाल, शक्ति सिंह गोहिल, रणदीप सुरजेवाला, बिहार कांग्रेस के अध्यक्ष मदन मोहन झा, अखिलेश सिंह ने शत्रुघ्न सिन्हा का विधिवत स्वागत किया. कांग्रेस में शामिल होने से पहले शत्रुघ्न सिन्हा ने ट्वीट कर लिखा कि भारी मन से बीजेपी छोड़ रहा हूं.

इससे पहले शक्ति सिंह गोहिल ने अपने एक ट्विट में लिखा था, ‘दिल से मानता हूं कि जो सच मे विश्वास रखने वाले और आत्मा की आवाज से बोलने वाले लोग हैं, वो कहीं दब के नहीं रह सकते हैं. शत्रुघ्न सिन्हा जी ने अपने आप मे निर्णय लिया है कि वो कांग्रेस पार्टी से जुड़कर आगे आने वाले दिनों में पार्टी के स्टार प्रचारक के रुप में साथ मिलकर काम करेगें.’

शत्रुघ्न सिन्हा संभवत: बिहार के पटना साहिब लोकसभा सीट से चुनाव लड़ेंगे. वह कई मौके पर इस बात का जिक्र कर चुके हैं कि ‘सिचुएशन कुछ भी हो, लोकेशन वही रहेगा.’ ज्ञात हो कि पटना साहिब सीट से बीजेपी ने कानून मंत्री रविशंकर प्रसाद को मैदान में उतारा है. अब शत्रुघ्न सिन्हा के आने से लड़ाई रोचक हो जाएगी, इसकी संभावना जताई जा रही है.

ज्ञात हो कि बिहार में कुल 40 लोकसभा सीटों पर सात चरणों में चुनाव होंगे. बिहार में 11 अप्रैल, 18 अप्रैल, 23 अप्रैल, 29 अप्रैल, छह मई, 12 मई और 19 मई को मतदान होंगे. 23 मई को मतगणना होगी.

Back to top button