सेहत

MRI मशीन ने ले ली जान, इस शख्स को मिली रूह कंपा देने वाली मौत, आंखें भी आ गईं थी बाहर

लोग बीमार होने के बाद किसी अस्पताल में इस भरोसे के साथ जाते हैं की वहां से बाहर निकलने के बाद वो पूरी तरह से स्वस्थ्य होकर लौटेंगे. आज हम आपको एक ऐसी चौंका देने वाली घटना के बारे में बताने जा रहे हैं जिसे जानकार आप भी हैरान रह जाएंगे . बीते दिनों एक अस्पताल में जब एक व्यक्ति MRI करवाने गया तो रहस्यमयी ढंग से उसकी मौत होगयी. आईये आपको बताते हैं की आखिर उस मरीज के साथ ऐसा क्या हुआ जिसने उसकी जान ही ले ली.

32 वर्षीय राजेश की MRI टेस्ट के दौरान हुई मौत

सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार मुंबई के नायर हॉस्पिटल में 32 साल का राजेश कुछ दिनों से तबियत ख़राब होने की वजह से इलाज के लिए पंहुचा था. वहां मौजूद डॉक्टर को दिखाने के बाद राजेश को फ़ौरन MRI टेस्ट करवाने के लिए कहा गया जहाँ उसकी रहस्मयी ढंग से मौत होगयी. इतनी कम उम्र में हुई राजेश की मौत ने उसके पूरे परिवार को सदमे मी दाल दिया है और नायर हॉस्पिटल को भी शक के दायरे में ला खड़ा कर दिया है. दरअसल मिली जानकरी के मुताबिक MRI टेस्ट के लिए जब राजेश को ले जाया गया तो उसके पेट में ऑक्सीजन गैस चला गया जिस वजह से मौके पर ही उसकी मौत होगयी.

नायर हॉस्पिटल के खिलाफ पुलिस ने किया मामला दर्ज

आपको बता दें की राजेश जब नायर हॉस्पिटल पंहुचा था तो उसके साथ उसके जीजा भी गए थे. राजेश के जीजा ने बताया की जब राजेश को डॉक्टर ने MRI टेस्ट के लिए बोला तो कुछ एक वोर्ड बॉय उसे स्ट्रेचर पर लेकर MRIरूम में ले जाने लगे. MRI टेस्ट के लिए ले जाते वक़्त उसके जीजा ने बताया की पहले तो राजेश के शरीर अपर मौजूद घड़ी और चैन उतरवाई गयी लेकिन एक बात जो सबसे ज्यादा चौंकाने वाली बात ये है की वार्ड बॉय राजेश को ऑक्सिजन मशीन के साथ ही अंदर ले जाने लगा. बता दें की MRI रूम में टेस्ट के दौरान ऑक्सीजन ले जाने की अनुमति नहीं होती है लेकिन वहां मौजूद वार्ड बॉय ने ये कहकर की MRI मशीन अभी बंद है ऑक्सीजन के साथ ही राजेश को टेस्ट के लिए लिटा दिया.

MRI मशीन पहले से ही ऑन था और जैसे ही राजेश को टेस्ट के लिए लिटाया गया मशीन ने तुरंत उसको अंदर खीच लिया और ऑक्सीजन सिलेंडर का ढक्कन खुल गया जिस वजह से सारा ऑक्सीजन राजेश के पेट में चला गया. कुछ ही देर के बाद राजेश का पेट फूलने लगा और उसकी आखें बाहर आगयी. हॉस्पिटल प्रशासन के इस लापरवाही की वजह से एक अच्छे खासे इंसान की इतनी निर्दयिता के साथ मौत होगयी. फिलहाल पुलिस ने परिवारवालों के द्वारा रिपोर्ट करने के बाद हॉस्पिटल के खिलाफ केस दर्ज कर लिया है और मामले की जांच चल रही है. सूत्रों की माने तो पुलिस ने आईपीसी की धारा 304 के तहत नायर हॉस्पिटल के खिलाफ मामला दर्ज किया है और उम्मीद की जा रही है की जल्द ही इस लापरवाही की सजा हॉस्पिटल प्रशासन को जरूर मिलेगी.

Back to top button