उत्तर प्रदेशख़बर

27 अक्टूबर को होगा फैसला, यूपी में एनडीए एक रहेगा या टूटेगा?

 

देश और उत्तर प्रदेश में सत्तारूढ़ राष्ट्रीय जनतांत्रिक गठबंधन के लिए आने वाली 27 अक्टूबर की तारीख बेहद अहम है. इस दिन ये फैसला होगा कि यूपी में एनडीए एक रहेगा या टूटेगा? दरअसल खबर है कि बीजेपी की सहयोगी सुहेलदेव भारतीय समाज पार्टी (सुभासपा) बीजेपी से गठबंधन जारी रखने या नहीं रखने को लेकर आगामी 27 अक्टूबर को फैसला ले सकती है.

सुभासपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष तथा राज्य की योगी आदित्यनाथ सरकार में पिछड़ा वर्ग कल्याण मंत्री ओमप्रकाश राजभर ने कहा है कि अगर बीजेपी 27 अक्टूबर तक पिछड़े वर्ग के लिये कोटे में कोटा को लेकर फैसला नहीं लेती है तो उनका दल लखनऊ में आयोजित होने वाली रैली में बीजेपी से गठबंधन जारी रखने या ना रखने को लेकर फैसला करेगी.

राजभर बोले हैं कि बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह ने के छह माह पहले पिछड़े वर्ग के आरक्षण में वर्गीकरण को लागू करने का भरोसा दिलाया था. इसके साथ ही मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ भी सदन में इसको लेकर घोषणा कर चुके हैं. राजभर ने कहा कि अगर जनता का अभिमत बीजेपी से गठबंधन को तोड़ने के पक्ष में रहा तो वह रैली में इसको लेकर फैसला कर सकते हैं. उन्होंने कहा कि बीजेपी ने पिछड़े वर्ग के आरक्षण के वर्गीकरण को लेकर फैसला नहीं किया तो उसे आगामी चुनाव में अंजाम भुगतना पड़ेगा.

उन्होंने अनुसूचित जाति एवं जनजाति अत्याचार निवारण अधिनियम में संशोधन के उच्चतम न्यायालय के फैसले को पलटने को लेकर भी मोदी सरकार पर निशाना साधा और कहा कि वह न्यायालय के फैसले के साथ हैं. वह इस मसले पर ना तो दलित कार्ड खेल रहे हैं और ना ही सवर्ण कार्ड.

Back to top button