देश

अगर नहीं हुआ ये एक काम, कूड़ा हो जाएंगे 20 करोड़ पैन कार्ड

 31 जुलाई तक इन्हें करना होगा पैन कार्ड लिंक

ITR भरने, बैंक और अन्य कई जगहों पर PAN Card की आवश्यकता होती है। नए पैन कार्ड के लिए ऑनलाइन अप्लाई करना का प्रोसेस काफी सरल है। PAN Card गुम हो जाए या फिर पैन कार्ड में नाम और अन्य जानकारी को अपडेट करना हो तो आपको कौन सा प्रोसेस फॉलो करना है, आज हम आपको एक खास जानकारी देने जा रहे जिसे जानने के बाद आपके भी होश ख़राब हो जायेंगे. अगर आपको अचानक पता चले  कि  आपका पैन कार्ड रद्दी हो जाएगा तो फिर आप क्या कहेंगे।

केन्द्रीय प्रत्यक्ष कर बोर्ड (सीबीडीटी) एक आधिकारिक विज्ञप्ति जारी कर यह जानकारी दी। गौरतलब है कि मीडिया में ऐसी खबरें आ रही थीं कि जो पैन कार्ड 31 मार्च 2019 तक आधार नंबर से नहीं जुड़े (लिंक) होंगे वो अमान्य हो जायेंगे।  विज्ञप्ति के अनुसार केन्द्र सरकार ने इस पर विचार करते हुए पैन कार्ड को आधार नंबर से जोड़ने की अंतिम तिथि छह महीने बढ़ाकर 30 सितंबर 2019 कर दी है। यह आदेश एक अप्रैल 2019 से लागू होगा। गौरतलब है कि आयकर रिटर्न भरने के लिए अपने आधार नंबर को पैन कार्ड से जोड़ना आवश्यक है। ऐसा किये बिना आयकर रिटर्न नहीं भरा जा सकता है।

बताते चले अब आयकर विभाग ने सख्त कदम उठाने का फैसला किया है, जिसके तहत इनकम टैक्स विभाग उन लोगों के पैन कार्ड्स डीएक्टिवेट कर सकता है, जिन्होंने 30 सितंबर 2019 तक अपने PAN को आधार से लिंक नहीं किया है। आंकड़ों के अनुसार, 44 करोड़ पैन कार्ड्स में लगभग 20 करोड़ को फिलहाल लिंक किया जाना बाकी है। इससे पहले, पीएम नरेंद्र मोदी के नेतृत्व वाली राष्ट्रीय जनतांत्रिक गठबंधन (एनडीए) की सरकार ने पैन कार्ड और आधार कार्ड को लिंक करने की आखिरी तारीख बढ़ाकर 30 सितंबर कर दी थी।

दरअसल, जुलाई 2017 में आधार मामले से जुड़े एक फैसले के बाद आधार और पैन की लिंकिंग अनिवार्य कर दी गई थी। मीडिया रिपोर्ट्स में एक अधिकारी के हवाले से कहा गया, “पिछले एक साल में अधिकतम संख्या में आधार-पैन की लिंकिंग हुई है। ताजा अंतिम समय-सीमा तक हमें इस संख्या में और इजाफे की उम्मीद है। कई करदाताओं ने नाम में संशोधन की लंबी प्रक्रिया के तहत आधार से पैन लिंक करने में विफलता को लेकर चिंता जताई थी। उसी समस्या के हल के लिए लिंकिंग की आखिरी तारीख 30 सितंबर कर दी गई है।”

यह भी कहा जा रहा है कि जिन लोगों का पैन आधार से लिंक नहीं हुआ होगा, वे मौजूदा असेसमेंट ईयर का इनकम टैक्स रिटर्न (आईटीआर) भी नहीं दाखिल कर सकेंगे। आईटीआर दाखिल करने की अंतिम तारीख 31 जुलाई है, जिसके बाद रिटर्न लेट फीस के साथ सितंबर तक जमा किया जा सकेगा।

PAN Card अपडेट  के लिए चाहिए ये दस्तावेज

पैन कार्ड अपडेट करने के लिए उन्हीं दस्तावेजों की जरूरत होती है जो नए पैन कार्ड को बनवाते वक्त चाहिए होते हैं। आपको आईडी प्रूफ, एड्रेस प्रूफ और जन्म तिथि के लिए दस्तावेज की जरूरत होगी। आईडी प्रूफ में ड्राइविंग लाइसेंस, आधार कार्ड आदि दस्तावेज। एड्रेस प्रूफ में बिजली का बिल, पानी का बिल, वोटर आईडी कार्ड। जन्म तिथि के लिए जन्म प्रमाणपत्र, मैट्रिक परीक्षा सर्टिफिकेट आदि दस्तावेजों की जरूरत होती है।

घर बैठे करें पैन कार्ड को आधार से लिंक आप घर बैठे-बैठे ही पैन कार्ड को आधार कार्ड से लिंक कर सकते हैं। इसके लिए आपको कुछ स्टेप फॉलो करने होंगे। आयकर विभाग की ई-फाइलिंग वेबसाइट यानी www.incometaxindiaefiling.gov.in पर जाकर लॉगइन करना होगा। अगर आप रजिस्टर नहीं है तो पहले रजिस्टर्ड करवाना होगा। वेबसाइट के होम पेज पर ही ‘लिंक आधार’ का विकल्प दिखेगा, जिसे क्लिक करना है। यहां दिए गए सेक्शन में अपना आधार नंबर और कैप्चा कोड भरना होगा। फिर नीचे दिख रहे ‘लिंक आधार’ ऑप्शन पर क्लिक करना होगा। ऐसा करते ही आपका आधार लिंक हो जाएगा। इसके अलावा आप एसएमएस के जरिए अपने पैन से आधार को लिंक करवा सकते हैं। आप इनकम टैक्स डिपार्टमेंट में बताया कि 567678 या 56161 पर एसएमएस भेज कर आधार को पैन से लिंक करवा सकते हैं।

Back to top button