देश

2 पहियों पर लेकर निकला कार जितनी सवारियां, इस फैमिली को देख पुलिसवाले भी हाथ जोड़ लिए!

गुना
बाइक पर क्षमता से अधिक बैठे लोगों की तस्वीरें पूरे देश से सामने आते रहती है। कोरोना के एक कहर बीच एमपी के गुना जिले से एक तस्वीर सोशल मीडिया पर वायरल है। देश के कई पुलिस अधिकारियों ने भी इस तस्वीर को शेयर किया है। गुना एक बाइक पर शादी में जाने के लिए छह लोग सवार थे। इन्हें देखकर तीन पुलिसवाले हाथ जोड़ लिए।

बाइक पर कार जितनी सवारी देखकर हर व्यक्ति हैरान है। यह तस्वीर एमपी के गुना जिले की है, बाइक पर 4 बच्चे और दो बड़े लोग बैठे हैं। इस नजारे को देख सड़क पर पुलिस के लोगों ने हाथ जोड़ लिए। हाथ जोड़ पुलिसवाले उनसे यहीं कह रहे हैं कि धन्य हो आप प्रभु! ये तस्वीर तब सामने आई है, जब लोगों से सोशल डिस्टेसिंग का पालन करने के लिए कहा जा रहा है।

कोरोना की वजह से गुना शहर में कर्फ्यू लागू है। बेवजह घरों से बाहर निकलने वाले वालों को रोकने के लिए जगह-जगह पर पुलिस का पहरा है। शहर के हनुमान चौराहे पर तैनात पुलिसकर्मियों की टीम को एक बाइक नजर आती है। पुलिस ने बाइक को रोका तो इस पर छह लोग बैठे थे। पुलिस पूछताछ शुरू की तो पता चला कि बाइक सवार का नाम रतन जाटव है, वह शिवपुरी जिले का रहने वाला है।

शादी में जा रहा था रतन

रतन ने पुलिस को बताया कि वह साले की शादी में जा रहा है। उसका ससुराल गुना के बांसखेड़ी में है। पत्नी और बच्चे शादी में जाने की जिद कर रहे थे, इसलिए लेकर आया हूं। उसके बाद पुलिस की टीम नतमस्तक हो गई और हाथ जोड़ लिए।

पुलिस ने काटा चालान
वहीं, पुलिस की टीम ने उसके ऊपर कार्रवाई भी की है। पुलिस ने उसका चालान काटा है। उसके बाद वहां से जाने दिया। साथ ही कोरोना काल में ऐसे न करने की नसीहत दी है क्योंकि इससे परिवार को खतरा है। उसने कहा कि बस नहीं चल रही हैं, इसलिए इस हाल में परिवार के लोगों को लाना पड़ा।

घर की सुरक्षा में सेंधमारी
वहीं, सोशल मीडिया पर हमेशा एक्टिव रहने वाले आईपीएस दीपांशु काबरा ने भी इस तस्वीर को शेयर करते हुए लिखा कि शादी में जाना था, मास्क लगाया और रोड सेफ्टी को ठेंगा… घर के मुखिया ही अपनों की सुरक्षा में ऐसी सेंधमारी कर रहे हैं। पुलिस समझाकर चालान काट सकती है, पर आपकी लापरवाही अपनों की लाइफलाइन काट देगी।

वहीं, आईपीएस आरके विज ने लिखा कि एक मोटरसाइकिल, बिना हेलमेट छह सवारी। नियम से चलो, समझा रहे तीन पुलिस अधिकारी।

Back to top button