जिंदगी

10 हजार पुरुषों के साथ बिताई रात, कॉलगर्ल की किताब पर बवाल

हिंदुस्तान में जिस्मफरोशी बैन है. लेकिन दुनिया के कई ऐसे देश हैं जहां ये लीगल है. ऑस्ट्रेलिया भी एक ऐसा ही देश है जहां सेक्स वर्क लीगल है. इन दिनों ऑस्ट्रेलिया की एक सेक्स वर्कर की एक किताब इन दिनों चर्चा का विषय बनी हुई है. इस किताब में उसने 15 साल का अनुभव बताया है.

39 साल की इस सेक्स वर्कर का नाम ग्वाइनेथ मॉन्टेनग्रो है. उसने ‘द सीक्रेट टैबू’ नाम की किताब लिखी है. इस किताब में ग्वाइनेथ ने इस धंधे में बिताए 15 साल के अनुभव को लिखा है. इस किताब में बताया गया है कि कैसे एक कामयाब सेक्स वर्कर बना जा सकता है.

इस किताब की सोशल मीडिया पर खूब आलोचना हो रही है. कई लोग इस किताब को अच्छा नहीं मान रहे हैं. ग्वाइनेथ ने इन आलोचकों को जवाब भी दिया है. ग्वाइनेथ का कहना है कि कई लोग इस धंधे के बारे में जानना चाहते थे. इसलिए उन्होंने ये किताब लिखी है.

ग्वाइनेथ ने अपनी जिंदगी में कई उतार-चढ़ाव देखे हैं. ग्वाइनेथ के साथ गैंगरेप हो चुकी है. इसके बाद उन्होंने सेक्स वर्कर बनने का फैसला किया था. उन्होंने अपनी पहली किताब में बताया था कि आदमी एक सेक्स वर्कर से क्या उम्मीद रखते हैं? अपने बारे में भी उन्होंने किताब में कई बातें लिखी थीं.

बता दें कि ग्वाइनेथ उस वक्त चर्चा में आई थी जब उसने अपनी पहली किताब में खुलासा किया था कि वो अब तक 10 हजार लोगों के साथ संबंध बना चुकी हैं.

Back to top button