देश

1 अगस्त से बदलेंगे बैंक और LPG से जुड़े 3 नियम, जानें आपकी जेब पर होगा कितना असर?

मेरठ। rules to change from 1 august. एक अगस्त (1 august) से लोगों के जीवन से जुड़ी तीन चीजों में बड़ा बदलाव होने वाला है। इसका असर मेरठ सहित देशभर के करोड़ों लोगों के बजट (budget) और रसोई पर पड़ेगा। इनमें बैंक (Bank) से लेकर और सैलरी तक पर असर पड़ेगा। प्राइवेट बैंक आईसीआईसीआई और रिजर्व बैंक ऑफ इंडिया ने अपने नियमों को बदलने वाला है। इसके अलावा 1 अगस्त से रसोई गैस की नई कीमतें भी जारी होंगी। इसका सीधा असर घर के बजट पर पड़ता है। सबसे बड़ा प्राइवेट बैंक 1 अगस्त से कई बड़े बदलाव करने जा रहा है। मेरठ लीड बैंक अधिकारी ने बताया कि आरबीआई के निर्देशानुसार 1 अगस्त से बैंक के एटीएम से कैश निकालना महंगा होने वाला है। साथ ही चेकबुक के नियमों में भी बदलाव होने वाला है।

दरअसल, आईसीआईसीआई की ओर से अपने ग्राहकों को 4 फ्री ट्रांजेक्शन की सर्विस दी जाती है। 4 बार पैसा निकालने के बाद आपको चार्ज देना होगा। रेगुलर सेविंग अकाउंट के लिए बैंक हर महीने 4 कैश ट्रांजेक्शन फ्री देता है। फ्री लिमिट के बाद हर ट्रांजेक्शन पर 150 रुपये देने होंगे। वहीं अगस्त से आईसीआईसीआई के ग्राहक अपनी होम ब्रांच से एक लाख रुपये प्रति निकाल सकते हैं। इससे ज्यादा होने पर 5 रुपये प्रति 1,000 पर देना होगा। होम ब्रांच के अलावा दूसरी ब्रांच से पैसा निकालने पर प्रतिदिन 25,000 रुपये तक कैश निकालने पर चार्ज नहीं है।उसके बाद 1000 रुपये निकालने पर 5 रुपये देना होगा। वहीं 25 पेज की चेकबुक फ्री होगी। इसके बाद 20 रुपये प्रति 10 पन्नों की अतिरिक्त चेकबुक के लिए देना होगा।

1 अगस्त से बैंक हॉलिडे पर सैलेरी

बता दें कि 1 अगस्त 2021 से रविवार या कोई दूसरा बैंक हॉलिडे होने पर भी सैलरी, पेंशन, डिविडेंड और इंटरेस्ट का पेमेंट नहीं रुकेगा, यानी तय डेट पर ही सैलरी और पेंशन का भुगतान होगा। दरअसल, रिजर्व बैंक ने घोषणा की है कि नेशनल ऑटोमेटेड क्लियरिंग हाउस सप्ताह के सातों दिन उपलब्ध होगा। नेशनल पेमेंट्स कॉर्पोरेशन ऑफ इंडिया द्वारा संचालित एनएसीएच के माध्यम से बल्क पेमेंट जैसे सैलरी, पेंशन, ब्याज, डिविडेंड आदि की भुगतान होता है। 1 अगस्त से एनएसीएच की सुविधा 7 दिन 24 घंटे मिलने से कंपनियां सैलरी कभी भी ट्रांसफर कर सकेंगी।

वहीं 1 अगस्त से एलपीजी सिलेंडर की कीमतों में बदलाव होगा। परतापुर स्थित इण्डेन गैस एजेंसी ने संचालक ने बताया कि हर महीने की पहली तारीख को घरेलू रसोई गैस और कमर्शियल सिलेंडर की नई कीमतें तय होती हैं।

Back to top button