देश

हजारीबाग के इस गांव के लोगों ने नेताओं के विरोध में लगाया प्रवेश निषेध का बोर्ड

हजारीबाग: झारखंड के हजारीबाग के भीलवाड़ा पंचायत के गांव के लोगों ने विरोध का नया तरीका निकाला है और ‘इस गांव में किसी जनप्रतिनिधि का आना वर्जित है’ का बोर्ड लगाया है. 

हजारीबाग से महज 5 किलोमीटर की दूरी पर स्थित बोचो गांव भीलवाड़ा पंचायत में है. इस गांव से 30 सालों से एक ही समस्या है जिसे नहीं खत्म किया जा रहा है. दरअसल शहर को एक पक्की सड़क से जोड़ना है जो आज तक पूरा नहीं हो सका है. 

ग्रामीण इसके लिए विभाग के साथ साथ जनप्रतिनिधियों को भी दोषी करार दे रहे हैं क्योंकि यहां से महज 2 किलोमीटर की दूरी पर हजारीबाग के सांसद केंद्रीय उड्डयन राज्यमंत्री जयंत सिंहा का आवास है. यह लोग कई बार हजारीबाग के विधायक और मंत्री जी से गुहार लगा चुके हैं लेकिन अब तक कोई कार्यवाई नहीं होने के बाद इन लोगों ने ऐसे सभी जनप्रतिनिधियों का इस गांव में प्रवेश वर्जित कर दिया है और इसके लिए बकायदा एक नोटिस बोर्ड भी लगा दिया है.

यही कारण है चुनावी मौसम में जनता जनप्रतिनिधियों से हिसाब बराबर करने के मूड में है और उसी का परिणाम इन जनप्रतिनिधियों के लिए इस गांव में प्रवेश निषेध का यह बोर्ड लगी दिया है. 

Back to top button