क्राइम

सोशल डिस्टेंसिंग वाली अय्याशी: पिंजरे में अश्लील डांस की लड़कियां, सड़क पर मचा हंगामा

पटना.  देशभर में शादी समारोह में नाच गाने की परंपरा है. हालांकि कुछ राज्यों में किसी सामान्य से मौके पर भी डांसर को बुलाकर कार्यक्रम आयोजित किए जाते हैं. खासकर बिहार और उत्तर प्रदेश में शादी समारोह में डांसरों को बुलाने की विशेष परंपरा रही है. लेकिन ताजा मामला बिहार के आरा से जुड़ा है जहां एक अजीबोगरीब तरीके से बार बालाओं को नचाने की परंपरा शुरू हुई है. जानकारी के अनुसार आजकल यहां शादी समारोह में बार बालाओं को पिंजरे में बंद कर नचवाया जाता है. तस्वीर और वीडियो के बारे होने के बाद से लोग सोशल साइट्स में तरह-तरह की प्रतिक्रिया दे रहे हैं.

कोरोना काल में शुरू हुई परंपरा

आरा में शादी समारोह के दौरान बालाओं को नचाने का यह तरीका कोरोना काल में शुरू हुआ है. इस तरह के कार्यक्रम का आयोजन करने वाले रमेश तिवारी बताते हैं कि कोरोना काल में सोशल डिस्टेंसिंग को देखते हुए इस तरह की व्यवस्था की गई है. आयोजकों का कहना है कि इससे अलग नियमों का भी पालन होता है और बार बालाओं के आसपास मनचले भी नहीं पहुंच पाते हैं. कार्यक्रम में आने वाली लड़कियां इस तरह के कार्यक्रम में ज्यादा सुरक्षित महसूस करती है और उन्हें किसी तरह की कोई आपत्ति नहीं है.

वीडियो वायरल होने के बाद प्रशासन आया हरकत में

स्थानीय लोगों का कहना है कि पिछले एक डेढ़ साल से इस तरह के कार्यक्रमों का आयोजन किया जाता रहा है. अब वीडियो वायरल होने के बाद आरा जिला प्रशासन भी हरकत में आ गया है और कार्रवाई का मन बना रहा है. इस संबंध में स्थानीय पुलिस का कहना है कि पिंजरे में बंद कर यूं आजमाइश करना अपने आप में एक तरह का अपराध है. इसके अलावा कोरोना के दौरान इस तरह के आयोजन पूरी तरह से गलत है.

देखें Video-

Back to top button