सेहत

सैनेटरी पैड्स का शानदार विकल्प है ये कप, एक बार आज़माएं जरूर

 मेन्स्ट्रुअल कप (Menstrual cups)

पीरियड्स के वो 5 दिन किसी भी महिला/लड़की के लिए आसान नहीं होते। इस दौरान न सिर्फ वो असहज रहती हैं, बल्कि बार-बार दाग लगने का डर भी सताता रहता है। हर 5-6 घंटे में पैड बदलने की झंझट और हार्मोनल बदलाव की वजह से मूड स्विंग की समस्या अलग से। कितना कुछ झेलना पड़ता है महिलाओं को ये दर्द सिर्फ एक महिला ही समझ सकती है। कई बार महिलाएं सोचती हैं कि काश सैनेटरी पैड्स के बार-बार बदलने के झंझट से छुटकारा मिल जाता! तो हम आपको बता दें कि आपके पास इसका विकल्प है। जी हां, सैनेटरी पैड्स का बेहतर विकल्प है मेन्स्ट्रुअल कप्स।

मेन्स्ट्रुअल कप को आपको पैडस् या टैंपून की तरह बार-बार नहीं बदलना पड़ता है। ये पीरियड्स के बल्ड को एकत्र कर लेता है पैड्स की तरह सोखता नहीं है। पहली बार मेन्स्ट्रुअल कप को इस्तेमाल करने से पहले 10 मिनट उबलते पानी में डालकर रखें। बहुत सी महिलाओं ने इसे इस्तेमाल किया और उन्हें ये विकल्प पसंद आया।

 मेन्स्ट्रुअल कप (Menstrual cups)

आप एक या दो कप खरीद लीजिए और 6 से 10 साल तक आप इसका इस्तेमाल कर सकती हैं। यानी अब हर महीने पैड्स खरीदने के लिए मेडिकल स्टोर पर जाने की ज़रूरत नहीं है।

 

 मेन्स्ट्रुअल कप (Menstrual cups)

इसे आप साफ करके दोबारा इस्तेमाल कर सकती हैं। साथ ही न दाग लगने का डर, न बार-बार बदलने का। इसे इस्तेमाल करने के बाद आप अपनी फेवरेट व्हाइट ड्रेस उन दिनों में भी पहन सकती हैं।

 मेन्स्ट्रुअल कप (Menstrual cups)

आप सोच रही होंगी कि इसका इस्तेमाल कैसे किया जाता है। दरअसल, पहली बार इस्तेमाल करते समय थोड़ा कन्फ्यूजन रहता है। इसे आप फोल्ड करके प्राइवेट पार्ट में डाल सकते हैं। ये अलग-अलग साइज़ में मिलता है आप अपनी सुविधा के अनुसार साइज का चुनाव कर सकती हैं। इस्तेमाल के बाद इसे बाहर निकाल लें।

 मेन्स्ट्रुअल कप (Menstrual cups)

इसे इस्तेमाल करने में किसी तरह की परेशानी नहीं होती। बस लंबी सांस लीजिए और इसे प्राइवेट पार्ट में फिट कर लीजिए। पैड और टैंपून से ये विकल्प कई गुणा बेहतर है। इससे आपकी सेहत और पर्यावरण दोनों बचे रहते हैं। दरअसल, पैड्स में इस्तेमाल होने वाला प्लास्टिक और सेहत और पर्यावरण दोनों के लिए नुकसानदायक है।

Back to top button