धर्म

श्री कृष्ण के बेटे और दुर्योधन की बेटी में थे प्रेम संबंध, फिर हुआ कुछ ऐसा..

महाभारत के बारे में तो हम सभी जानते है। महाभारत में बहुत सारे ऐसे रहस्य है जिनके बारे में बहुत कम लोग ही जानते है। श्रीकृष्ण और दुर्योधन महाभारत में एक-दूसरे के शत्रु थे, लेकिन फिर भी श्रीकृष्ण ने अपने पुत्र का विवाह दुर्योधन की बेटी से करवा दिया।

दुर्योधन भगवान श्रीकृष्ण को पसंद नहीं करता था। पांडवों का हितैषी होने के कारण वह श्रीकृष्ण को भी शत्रु मानता था। श्रीकृष्ण भी दुर्योधन को धर्म और शांति के मार्ग में सबसे बड़ा अवरोध समझते थे, पूरी तरह से उसके खिलाफ भी थे। इसके बावजूद श्रीकृष्ण के पुत्र का विवाह दुर्योधन की पुत्री से क्यों और कैसे हुआ,

श्रीकृष्ण का पुत्र साम्ब और दुर्योधन की पुत्री लक्ष्मणा एक-दूसरे से प्रेम करते थे। दुर्योधन इस रिश्ते के खिलाफ था, इसलिए उसने लक्ष्मणा का स्वयंवर रखा, लेकिन उसमें यादवों को न्योता नहीं भेजा। साम्ब को जब इस बारे में पता चला तो वह भरे स्वयंवर से लक्ष्मणा का अपहरण करके ले गया।

जब साम्ब लक्ष्मणा का अपहरण करके ले गया तो दुर्योधन ने सेना के साथ उसका पीछा किया और साम्ब को बंदी बना लिया। तब बलराम साम्ब को छुड़वाने पहुंचे। बलराम ने साम्ब और लक्ष्मणा के विवाह के लिए दुर्योधन को मनाने की कोशिश भी की, लेकिन वह नहीं माना।

Back to top button