क्राइम

श्मशान का लॉकर तोड़ चुराई अस्थियां, फिर टहलते हुए नहर में बहा आया

हिसार : सेक्टर 16-17 में सिविल लाइन थाना के समीप श्मशानघाट में घुसकर एक युवक ने लॉकर तोड़कर दिवंगत पटेल नगर वासी ईश्वरी देवी की अस्थियां चुरा लीं। इसके बाद नहर पर जाकर डिब्बे से अस्थियां निकालकर विसर्जित कर घर चला गया। पीड़ितों ने इस मामले में कार्रवाई की मांग की तो पुलिस ने धारा 380,454,295 का केस दर्ज कर रविवार दोपहर बाद आरोपी को काबू किया। आरोपी की निशानदेही पर बालसमंद नहर से विसर्जित अस्थियों व डिब्बे को बरामद किया है। आरोपी युवक कैमरी रोड स्थित माल काॅलोनी वासी अनिल है। उसके परिजनों का कहना है कि वह मानसिक रूप से डिस्टर्ब है। उसे सोमवार को अदालत में पेश करेंगे।

पुलिस को नरेश कथूरिया ने बताया कि 12 सितंबर को मां ईश्वर देवी का निधन हुआ था। उनका सेक्टर 16-17 सिविल लाइन थाना के नजदीक श्मशानघाट में अंतिम संस्कार किया था। इसके 9 दिन बाद अस्थियां विसर्जित करने के लिए हरिद्वार जाना था। इसलिए फूल चुगने या अस्थियां इकट्ठी करके उन्हें एक डिब्बे में भरकर श्मशानघाट के लॉकर में रखवाई थी। रविवार सुबह अस्थियों की धूपबत्ती करने आए तो वे नहीं मिली। कैमरे की फुटेज में युवक दिखाई दिया। वह शनिवार शाम को 4 बजकर 58 मिनट पर आता है और 5 बजकर 02 मिनट पर अस्थियां चुराकर ले जाता है। नहर में पानी कम था और अधिकांश अस्थियां वहीं गिरी मिल गईं।

गोदाम में घुसने पर हुई थी पिटाई: सोशल मीडिया पर आरोपी की फुटेज वायरल हुई तो पीड़ित पक्ष के पास कैमरी रोड स्थित टेंट के गोदाम संचालक का फोन आया। उसने बताया कि यह लड़का शनिवार दोपहर 3 बजे मेरे गोदाम में घुसा था। चोरी की नीयत से आया था, जिसे पकड़ कर धुनाई भी की थी। फिर छोड़ दिया।

Back to top button