धर्म

शादीशुदा महिलाएं कभी भी ना करें ये काम, पति और परिवार हो जाएगा कंगाल

हमारे समाज में औरत को देवी समान माना जाता है| जिस घर में लड़की पैदा हो उसको लक्ष्मी की तरह पूजा जाता है| अब समय बदल रहा है| लड़कियों को लड़कों के समान इज्जत मिल रही है| एक समय था जब लड़कियों को लोग नीच समझ कर पैदा करने से भी डरते थे| लेकिन, अब लोगों के पढ़े लिखे होने के कारण लड़कों और लड़कियों में किये जाने वाले फर्क को लोग नकारने लग गये हैं| अगर लडकियाँ और औरतें नहीं होती तो हमारा समाज अधूरा रहता क्यूंकि, औरत एक जननी है अगर ये हमारा वंश आगे नहीं बढ़ाएगी तो हमारी पीढ़ी वही रुक जाएगी|

ऐसे में मर्दों से भी अधिकतर समझदार औरतों को ही माना जाता है| औरतें ना केवल घर सम्भालती हैं, बल्कि, पूरे परिवार को पालती हैं| हमारे समाज में जहाँ औरतों को पूजा जाता है वहीं कुछ लोग ऐसे भी हैं, जो उन्हें अपना खिलौना समझते हैं और खेल कर उन्हें फेंक देते हैं| इसलिए औरतों को हमेशा हर कदम डर कर फूंक-फूंक कर रखना पढ़ता है| ऐसे में अपनी इज्जत के लिए उन्हें समाज में हर पहलु को लेकर चलना पड़ता है| क्यूंकि उनकी एक गलती से लोग उन्हें नीचा दिखा देते हैं| हिन्दू धर्म के शास्त्रों के अनुसार भगवान ने औरतों के लिए कुछ नियम कानून बनाये हैं जिन्हें तोड़ने से उनको काफी कुछ झेलना पड़ सकता है| ऐसे में आज हम आपको चार ऐसे काम बताने जा रहे हैं, जिन्हें शास्त्रों ने औरतोंको करने से साफ़ तौर पर मना किया है| चलिए जानते हैं उन कामों के बारे में…

जो औरते घर में शाम के वक़्त भी सोई रहती हैं, कामो को निपटाने में आलसी करती हैं, घर के सदस्यों से बात बात पर लड़ाई झगड़ा करती हैं वहां का माहोल सबसे अधिक नेगेटिव हो जाता हैं| ऐसे घरो से लक्ष्मी माँ दूर ही रहना पसंद करती हैं|

जिस घर की महिलाएं पैर की ठोकर से दरवाजा खोलती हैं वहां से भी धन की देवी मां लक्ष्मी नाराज हो जाती हैं, इसलिए अगर आपके घर में भी ऐसा होता है तो तुरंत रोके|

घर की महिलाएं अगर रात में रसोई घर में जूठे बर्तन रखकर सोती हैं तो यह गरीबी को दावत देते जैसा है| ऐसा न होने दें|

जिस घर की महिलाएं प्रातः काल के बजाय रात या शाम को झाड़ू लगाती हैं उस घर में दरिद्रता आती है| इसलिए इस आदत को बदलवायें|

अगर किसी घर की महिलाओं को देर तक सोने की आदत हो तो वह घर और परिवार के लिए अशुभ हो सकती है| देर तक सोने वाली स्त्रियां अपने पति और उसके परिवार व ससुराल के लोगों की असफलता का कारण बनती हैं|

घर में सुख शांति के लिए हफ्ते में एक बार समुंद्री नमक से पोछा लगवाये| ऐसा करने से मां लक्ष्मी की कृपा बनी रहती है|

अगर घर की कोई महिला घर की दहलीज पर बैठकर भोजन करती है तो उस घर की बर्बादी का कारण बनता है| हिन्दु शास्त्रों में इसे बेहद अशुभ माना गया है|

साथ ही घर में महिलाएं झाड़ू को पैर से लगाती हैं या पैर से ठोकर मारती हैं वहां कभी भी लक्ष्मी का वास नहीं होता| ऐसे घर में हर समय दरिद्रता छाई रहती है|

कुछ महिलाएं बहुत कंजूस प्रवृत्ति की होती है और कभी कोई दान पून्य नहीं करती हैं मंदिर में एक रुपये भी दान करने से भी हमेशा पीछे हटती है| यदि घर के बाहर कोई गाय या कुत्ता कभी आ जाए तो ये उसे भी मार के भगा देती हैं ऐसे व्यवहार वाली महिलाओं से लक्ष्मी माँ सख्त नफरत करती हैं ऐसा नहीं हैं कि आप अधिक दान करे बल्कि अपनी श्रृद्धा भक्ति से किया गया छोटा सा दान भी काफी हैं|


Back to top button