जरा हट के

लड़के के पैरों में पगड़ी रख दिए प्रियंका के पापा, बेटी ने ऐसा कदम उठाया कि सब कर रहे तारीफ

हम एक तरफ तो विकसित और आधुनिक होने की बाते करते हैं। दुनिया के अग्रज देशों में शुमार होने का दंभ भरते हैं लेकिन असलियत यह है कि हम आज भी रूढ़ीवादी जंजीरों से जकड़े हुए हैं। सरकार तमाम योजनाएं चला ले, लेकिन जब तक सामाजिक बदलाव नहीं हो जाता तब तक कोई असर दिखाई नहीं देगा। आज भी हमारे समाज में दहेज के लेन- देन पर ही शादियां होती हैं। कई बार मन माफिक दहेज नहीं मिलने पर शादियां टूट तक जाती है।

हर रोज अखबार में ऐसी खबरें पढ़ते हैं जहां बेटियों पर ससुराल वाले दहेज के लिए प्रताड़ित करते हैं। हजारों-लाखों लड़कियां आज दहेज की आग की भेट चढ़ चुकी हैं। लेकिन कई बार दहेज लोभियों को लड़कियां मजा भी चखा देती हैं। ऐसा ही एक मामला सामने आया है, जहां लड़की ने साहस दिखाते हुए दहेज लोभियों को बैरंग लौटा दिया। लड़की के साहस को देखते हुए पूरा देश उसे सलाम कर रहा है।

घटमा राजस्थान झंझूंन के मेघपुर पंचोली गांव की है। यहां महिपाल सिंह खांडा की बेटी प्रियंका की शादी पुलिस कॉन्सटेबल आशीष के साथ हुई थी। शादी की तैयारियां पूरी हो चुकी थी लेकिन आखिरी मौके पर लड़के वालों की तरफ से दहेज की मांग होने लगी। उन्होंने शादी से पहले 25 लाख रुपये नकद, 10 तोले की सोने की चेन मांग की। शादी से ठीक पहले लड़की के पिता इतनी राशि अदा करने में असमर्थता जताई थी। लेकिन लड़के वाले कुछ भी सुनने को तैयार नहीं थे , ऐसे में प्रियंका ने खुद आगे आते हुए शादी से इंकार कर दिया।

प्रियंका ने कहा कि मुझे ऐसे ल़ड़के से शादी करनी ही नहीं जो दौलत का लालची हो। उसने कहा कि मैं ही क्या इस लड़के के साथ कोई भी लड़की शादी नहीं करना चाहेगी। लड़की के मना करने पर, वहीं मौजूद कमल नाम के लड़के ने लड़की से शादी करने की इच्छा जताई। प्रियंका ने भी कमल के साथ शादी करने में सहमति जताई। आखिर में प्रियंका और कमल की शादी तय हुई। उसी मंडप में दोनों की शादियां हो गई और लालची दूल्हा अपने परिवार संग वापिस लौट गया।

Back to top button