उत्तर प्रदेशक्राइम

लखनऊ : अवैध पिस्टल के साथ महिला दरोगा का पुत्र गिरफ्तार

पुलिस का लोगो लगी हुई गाड़ी पर किसी वारदात को अंजाम देने के इरादे से नाका क्षेत्र में घूम रहा था दरोगा पुत्र

लखनऊ। अपराधियों की धरपकड़ और अपराध की रोकथाम के लिए लखनऊ कमिश्नरेट पुलिस द्वारा चलाई जा रही मुहिम में शुक्रवार को नाका पुलिस ने विजयनगर मोबाइल मार्केट के पास से एक ऐसे व्यक्ति को गिरफ्तार किया जो अपने आप को न सिर्फ दरोगा का बता रहा था बल्कि अवैध पिस्टल रखें घूम रहा था और गाड़ी पर पुलिस का लोगो भी लगाए हुए था। पुलिस द्वारा गिरफ्तार किया गया सचिन शर्मा चिनहट क्षेत्र का रहने वाला है और उसकी माता शालिनी शर्मा लखनऊ सीबीसीआईडी में उपनिरीक्षक के पद पर तैनात हैं। इंस्पेक्टर नाका ने बताया कि गिरफ्तार किया गया सचिन शर्मा सादे कपड़ों में था उन्होंने गिरफ्तार किए गए युवक की गिरफ्तारी के संबंध में बताया कि सचिन शर्मा के पास से एक अवैध पिस्टल भी बरामद हुई है हालांकि उन्होंने इस बात से इनकार किया है कि गिरफ्तार किया गया सचिन शर्मा अपने आप को दरोगा बताकर रौब गांठ रहा था। बताया जा रहा है कि सचिन शर्मा साल 2007-8 में हत्या के मामले में जेल जा आ चुका है और उसके ऊपर अपराध के कई अन्य मामले भी दर्ज हैं।

बताया यह भी जा रहा है कि गिरफ्तार किया गया महिला दरोगा का पुत्र सचिन शर्मा किसी मामले में वांछित चल रहा था और नाका थाना क्षेत्र के विजय नगर के पास अपने आप को दरोगा बताकर लोगों को अदब में ले रहा था। भले ही सचिन शर्मा अपने आप को दरोगा न बता रहा हो लेकिन उसके पास से बरामद अवैध पिस्टल इस बात की गवाही जरूर दे रही है कि गाड़ी पर पुलिस का लोगो लगाकर अवैध पिक्चर के साथ घूम रहा सचिन शर्मा किसी वारदात को अंजाम देने की फिराक में था।

लेकिन पुलिस द्वारा सचिन शर्मा की मंशा पर पानी फेरते हुए उसे अवैध पिस्टल के साथ गिरफ्तार कर लिया गया। सूत्रों के अनुसार अवैध पिस्टल के साथ गिरफ्तार किए गए सचिन शर्मा की गिरफ्तारी होने की सूचना के बाद उसे थाने से ही छुड़ाने के लिए कई लोगों ने पूरी ताकत झोंक दी लेकिन इंस्पेक्टर नाका ने किसी की एक न सुनी और पिस्टल के गिरफ्तार किए गए महिला दरोगा पुत्र सचिन को हवालात में डाल दिया गया।

Back to top button