उत्तर प्रदेशख़बर

राजा भईया तोड़ेंगे अखिलेश के राजतिलक का ख्वाब, क्या करेंगे टीपू?

हर मुश्किल वक्त में हमेशा अखिलेश यादव के साथ खड़े रहने वाला एक औऱ शख्स अब उनसे दूर जा खड़ा हुआ है। जी, ये राजा भैया ही हैं। यूपी के बाहुबली विधायक रघुराज प्रताप सिंह उर्फ राजा भैया लोकसभा चुनाव-2019 से पहले एक नई पार्टी का गठन करने जा रहे हैं। बता दें कि कुंडा रियासत के राजा व बाहुबली विधायक रघुराज प्रताप सिंह 30 नवंबर को राजनीति में अपने 25 साल पूरे करने जा रहे हैं। इस खास मौके पर वह एक नई राजनीतिक पार्टी का ऐलान करेंगे।

चुनाव आयोग में इस नई पार्टी के लिए आवेदन किया जा चुका है और नाम भी लगभग तय माना जा रहा है। रघुराज प्रताप सिंह की इस पार्टी का नाम जनसत्ता पार्टी हो सकता है। विधायक राजा भैया ने अपनी राजनीतिक पार्टी के लिए यही नाम सुझाया है।

बता दें कि राज्यसभा चुनाव के वक्त से राजा भैया के संबंध समाजवादी पार्टी के मुखिया अखिलेश यादव से बेहद खराब हो चुके हैं। इसके अलावा बसपा सुप्रीमो मायावती पहले से ही उनकी धुरंधर सियासी विरोधी हैं। बीजेपी राजा भैया से दूरी बनाना चाह रही है। ऐसे में लोकसभा चुनाव-2019 में बाहुबली विधायक राजा भैया अपनी सियासी ताकत टटोलना चाहते हैं।

जाहिर है, सपा-बसपा गठबंधन होने पर आधी सीटों पर ऐसे प्रत्याशी खाली होंगे, जिन्हें किसी ना किसी पार्टी की जरूरत होगी। ऐसे में अधिकांश उम्मीदवार किसी ना किसी राजनीतिक दल की तलाश में होंगे। ऐसे में शिवपाल यादव और राजा भैया की पार्टी की डिमांड ज्यादा होगी। इसी रणनीति के तहत राजा भैया ने अपनी नई राजनीतिक पार्टी बनाने का ऐलान किया है।

Back to top button