उत्तर प्रदेशक्राइम

यूपी: लॉकडाउन में बंद थे ठेके तो दूसरे जिले जाकर लाए शराब, वो ले ली 5 की जान

 

अंबेडकरनगर : यूपी के अंबेडकरनगर जिले में ‘जहरीली शराब’ के सेवन से 5 लोगों की मौत से हड़कंप मच गया है। घटना जैतपुर थाना इलाके की है। चार लोगों की हालत नाजुक है। आशंका जताई जा रही है कि सभी ने जहरीली शराब पी थी। तबीयत बिगड़ने के बाद आनन-फानन में इन्हें प्राइवेट अस्पतालों में भर्ती कराया गया। बाद में दो को जिला अस्पताल में इलाज के लिए लाया गया। इसमें से एक की मौत हो चुकी थी, जबकि एक का इलाज चल रहा है। ग्रामीणों ने तीन मृतकों का अंतिम संस्कार भी कर दिया। वहीं दो मृतकों के शव को कब्जे में लेकर पुलिस ने पोस्टमॉर्टम के लिए भेज दिया है।

डीएम सैमुअल पॉल और एसपी आलोक प्रियदर्शी ने गांव जाकर मामले की जांच शुरू कर दी है। डीएम ने बताया कि शराब पड़ोसी आजमगढ़ जिले के मिट्टूपूर से लाई गई थी। मामले की जानकारी आजमगढ़ के डीएम को दी गई है। साथ ही गांव में सर्च अभियान चलाया जा रहा है। सपा नेता सिद्धार्थ मिश्रा का आरोप है कि आबकारी विभाग की निष्क्रियता के चलते लोगों की जानें गई हैं। मृतकों के परिजनों को 20 लाख का मुआवजा मिले। साथ ही दोषी पुलिस और आबकारी अधिकारी के खिलाफ केस दर्ज किया जाए।

जैतपुर थाना इलाके के शिवपाल और ग्राम पंचायत सिहोरा के मखदूमपुर की चौहान बस्ती में जहरीली शराब पीने से कई लोगों की तबीयत बिगड़ गई। ये लोग अपना इलाज कई प्राइवेट अस्पतालों में करा रहे हैं। घटना की जानकारी मिलने के बाद सपा विधायक सुभाष राय गांव पहुंचे और मामले की सूचना जैतपुर पुलिस को दी। विधायक सुभाष राय ने राज्य सरकार से मृतकों के परिजनों को 20- 20 लाख रुपये की सहायता राशि दिए जाने की मांग की है।

जानकारी के मुताबिक शिवपाल के रहने वाले सोनू चौबे ने आजमगढ़ जिले की सीमा पर स्थित मिट्टूपुर बाजार से देसी शराब खरीदी थी। रविवार को सोनू चौबे के अलावा बगल के गांव मखदूमपुर के राम शुभम चौहान,अमित चौहान, जैसराज, महेश समेत कई लोगों ने शराब पी थी। इसके बाद सभी की हालत बिगड़ने लगी। तबीयत खराब होने पर ग्रामीणों ने उन सभी को जलालपुर के एक निजी अस्पताल में इलाज के लिए भर्ती कराया। यहां अमित चौहान की रविवार को मौत हो गई थी। वहीं सोनू चौबे, रिटायर्ड सूचना अधिकारी राम शुभग चौहान ने सोमवार को दम तोड़ दिया।

शराब पीने से हुई मौत की घटना को ग्रामीणों ने छिपाकर आनन-फानन में तीनों शवों का अंतिम संस्कार कर दिया। मृतक राम शुभग के घर से शराब की दो शीशी मिली है।क्षेत्रीय विधायक की मानें तो शराब पीने से 17 अन्य लोगों की भी हालत खराब है।

Back to top button