उत्तर प्रदेश

यूपी पुलिस को धमकी- ‘गोरक्षकों के खिलाफ केस वापस नहीं लिए तो पूरा शहर जलेगा’

उत्तर प्रदेश के हाथरस जिले में आवारा पशुओं ने काफी तबाही मचाकर रखी है. जिसके चलते पूरा हाथरस काफी परेशान है. पुलिस द्वारा गौरक्षकों के खिलाफ  मुकदमे लगाने को लेकर नया बवाल खड़ा हो गया है. हाथरस से अपने सहयोगियों के साथ आये सवर्ण परिषद के प्रचारक पंकज धरवैया द्वारा एक मीटिंग का आयोजन किया गया था, जिसमें पंकज धरवैया एक विवादित बयान दे बैठे.

सभा को संबोधित करते हुए वो बोले-  ‘पुलिसवालों ने अगर गौरक्षकों के खिलाफ किए मुकदमेंवापस नहीं लिए तो पूरा अलीगढ़ जलेगा‘. सवर्ण परिषद ने राजनीति और प्रशासनिक दबाव में आकर ये सब किया है. लेकिन परिषद ने इससे साफ इंकार किया है. आपको बता दें कि हाथरस में पहले यह मीटिंग कोतवाली इगलास में स्थित बरेली फर्नीचर हाउस पर रखी गई थी. लेकिन अचानक ही मीटिंग स्थान को बदलकर दूसरी जगह कर दिया गया.

सवर्ण परिषद के स्टार प्रचारक पंकज धरवैया को कुछ समय पहले ही हाथरस के जिला प्रभारी उपेंद्र तिवारी के खिलाफ प्रदर्शन करने के खिलाफ जेल भेज दिया गया था. जिसके बाद राष्ट्रवादी पार्टी ने उनकी गिरफ्तारी पर गुस्सा जाहिर करते हुए डीएम को ज्ञापन भी सौंपा था. पंकज धरवैया ने मेला दाऊजी महाराज में एक कार्यक्रम के दौरान तब हंगामा खड़ा कर दिया जब प्रभारी मंत्री उपेंद्र तिवारी कार्यक्रम में पहुंचे थे. जिससे कार्यक्रम में काफी हंगामा खड़ा हो गया. जिसके चलते पंकज धरवैया को शांति भंग करने के आरोप में गिरफ्तार कर लिया गया था.

Back to top button