उत्तर प्रदेश

यूपी पंचायत चुनाव में 7.7 लाख लोगों को हुआ कोरोना, अब महिलाओं से भी उठक-बैठक लगवा रही पुलिस

लखनऊ.

उत्तर प्रदेश में कोरोना कहर बरपा रहा है। पंचायत चुनाव ने इस महामारी को बढ़ाने में आग में घी जैसा काम किया। महाराष्ट्र, पंजाब और तमाम राज्यों से लोग यहां वोट डालने पहुंचे। जगह-जगह रैली, सभाएं होने से केस दोगुने से ज्यादा बढ़ गए। इस दौरान पूरा सिस्टम बेपरवाह बना रहा। आलम यह था कि एक महीने में ही 120% तक पॉजिटिव केस का इजाफा हुआ। 4 अप्रेल तक 6.30 लाख संक्रमित थे, चुनाव बाद आंकड़ा 14 लाख पार हो गया।

कोरोना बेकाबू होता देख हरकत में आई योगी सरकार ने अब उत्तर प्रदेश में लॉकडाउन लगाकर महामारी पर काबू करने का महाअभियान छेड़ा है। सकल राज्य में दस मई तक लॉकडाउन लगाया गया है, इसके साथ ही चुनाव से खाली हुई उत्तर प्रदेश पुलिस शहर से लेकर गांव तक में उतर गई है। घरों से बाहर निकले लोगों को दौड़कार पीटा जा रहा है। यहां तक कि महिलाओं तक से उठक बैठक लगवाई जा रही है। पश्चिम उत्तर प्रदेश से लेकर पूर्वी उत्तर प्रदेश तक पुलिस एक साथ एक्टिव मोड में है। कुछ जिलों के उदाहरण वीडियो सहित देखिए….।

फतेहपुर: महिलाओं को उठक-बैठक करवाकर घर वापस भेजा

यूपी के फतेहपुर जिले में कोविड-19 महामारी पर लगाम लगाने के लिए 10 मई कि सुबह 07 बजे तक लॉकडाउन लगाया है l लॉकडाउन को सफल बनाने के लिए जिलाधिकारी अपूर्वा दुबे व पुलिस अधीक्षक सतपाल अंतिल ने अधीनस्थ अधिकारियों और कर्मचारियों को आवश्यक दिशा निर्देश जारी किए हैं l महिला पुलिस ने भी लॉकडाउन को सफल बनाने के लिए अभियान छेड़ दिया है l इसी कड़ी में आज यहां चौक बाजार व चूड़ी वाली गली में बिना वजह घूमने वाली महिलाओं को उठक-बैठक लगवाई गई। साथ ही सख्त लहजे में चेतावनी देते हुए घर जाने दिया l वहीं शहर के चौक बाजार, लाठी मोहल्लों सहित कुछ जगह पर बाजारों में दुकानें खुली दिखाई पड़ीं। जिन्हें पुलिस कर्मियों ने बंद करवा दिया।

औरैया: पुलिस ने बेवजह घूम रहे लोगो को दौड़ाया

औरैया जिले में लोग कोरोना कर्फ्यू का पालन नहीं कर रहे हैं। ऐसे में लॉकडाउन का सख्ती से पालन कराने के लिए पुलिस ने कमर कस ली है। यहां शनिवार को सदर कोतवाली क्षेत्र में तमाम दुकानें खुली रहीं। पुलिस ने जबरन उन्हें बंद कराया। वहीं, पुलिस की सख्ती देख तमाम व्यापारियों ने खुद अपनी दुकानों के शटर गिरा दिए। इस दौरान तमाम लोग बेवजह सड़कों पर घूमते दिखाई दिए। यह देख निझाई चौकी प्रभारी ब्रजेश भार्गव और उप निरीक्षक सुरेंद्र सिंह ने पुलिस बल के साथ बेपरवाह लोगों को दौड़ा दिया। पुलिस की इस कार्रवाई से व्यापारियों में आक्रोश पनप रहा है।

मिर्जापुर: कई गाड़ियों का चालान
लॉकडाउन का सख्ती से पालन कराने के लिए शनिवार को SP सिटी, SDM सदर पुलिस और PAC के जवानों के साथ नगर के विभिन्न मार्गों पर मार्च किया। इस दौरान अनावश्यक घूम रहे लोगों को घर में रहने को कहा गया। हालांकि सड़कों पर कर्फ्यू के बावजूद घूमने वाले दो पहिया वाहन, ई-रिक्शा और चार पहिया वाहनों के चालान बनाए गए। इस दौरान खुली दुकानों को भी बंद करवाया गया। SP सिटी संजय कुमार ने सड़क पर घूम रहे लोगों को बढ़ते कोरोना वायरस को देखते हुए कहा कि आप लोग घर में रहें और सुरक्षित रहें।

Back to top button