देश

यात्रीगण ध्यान दे ! इन ट्रेनों में यात्रा होगी महंगी, यहाँ पढ़े पूरी डिटेल

नई दिल्ली। भारतीय रेलवे (Indian Railways) ने ट्रेनों के किराया ( Train Fare ) में इजाफा कर दिया है। हालांकि ये इजाफा कम दूरी की ट्रेनों को लेकर किया गया है। पेट्रोल-डीजल के बढ़ते दामों के बीच ट्रेने किराए के दामों में बढ़ोतरी के चलते सरकार पर विपक्ष के निशाने पर आ गई।

विपक्ष के हंगामे के बाद रेलवे ने सफाई देते हुए कहा कि कोरोनाकाल में शॉर्ट डिस्टेंस ट्रेन में गैर-जरूरी भीड़ बढ़ने से रोकने के लिए किराये में बढ़ोतरी की गई है।

इन ट्रेनों में यात्रा होगी महंगी
भारतीय रेलवे ने कम दूरी वाली ट्रेनों के किराए में खासी बढ़ोतरी कर दी है। अब लोकल ट्रेनों से यात्रा के लिए ज्यादा किराया देना होगा।

दोगुना हुए दाम
रेलवे ने लोकल ट्रेनों के किराये में दोगुना तक बढ़ोतरी कर दी है। अब यात्रियों को 25 रुपये की दूरी के लिए 55 रुपये किराया भरना होगा। वहीं, 30 रुपये की जगह अब 60 रुपया किराया वसूला जाएगा।

3 फीसदी ट्रेनों का बढ़ाया किराया
इंडियन रेलवे ने कहा कि कुल संख्‍या की सिर्फ 3 फीसदी ट्रेनों के लिए किराए में बढ़ोतरी की गई है। किराए में की गई इस बढ़ोतरी की मार हर दिन 30-40 किमी तक का सफर करने वाले यात्रियों पर पड़ेगी।

राहुल गांधी ने साधा निशाना
आपको बता दें कि कांग्रेस के पूर्व अध्‍यक्ष राहुल गांधी (Rahul Gandhi) ने कम दूरी के सफर पर रेलवे की ओर से किराये में की गई इस वृद्धि को लेकर केंद्र सरकार पर निशाना साधा है।

उन्‍होंने ट्वीट कर लिखा- कोविड-19 आपदा आपकी, अवसर सरकार का, पेट्रोल-डीजल-गैस-ट्रेन किराया. मध्यवर्ग को बुरा फंसाया, लूट ने तोड़ी जुमलों की माया! दो दिन पहले जब राहुल गांधी ने ट्वीट किया था, तब रेलवे ने इसे तथ्‍यात्‍मक रूप से गलत (factually incorrect) बताया था।

ये है रेलवे का तर्क
रेल मंत्रालय ने किराए में बढ़ोतरी के पीछे जो तर्क बताया है उसके मुताबिक कोविड-19 अभी खत्‍म नहीं हुआ है बल्कि कुछ राज्‍यों में हालात फिर से बिगड़ रहे हैं।

कुछ राज्‍य सुरक्षा के नजरिये से दूसरे राज्‍यों से आने वाले लोगों की स्‍क्रीनिंग कर रहे हैं। यही नहीं, अभी भी कई राज्‍य दूसरे राज्‍यों के लोगों को यात्रा करने से मना कर रहे हैं। उनसे कहा जा रहा है कि बहुत ही जरूरी होने पर सफर करें। ऐसे में किराए में बढ़ोतरी कर गैर जरूरी लोगों को भी सफर करने से रोकने की कोशिश की जा रही है।

आपको बता दें कि भारतीय रेलवे इस समय 1250 मेल या एक्‍सप्रेस ट्रेनें चला रहा है। इसके अलावा 5350 सब-अर्बन ट्रेनें और 326 पैसेंजर ट्रेनें हर दिन चलाई जा रही हैं।

Back to top button